फसल की खेती (Crop Cultivation)

नवीनतम फसल की खेती (Crop Cultivation) की जानकारी और कृषि पद्धतियों में नवाचार, बुआई का समय, बीज उपचार, खरपतवार नियन्तारन, रोग नियन्तारन, कीटो और संक्रमण से सुरक्षा, बीमरियो का नियन्तारन। गेहू, चना, मूंग, सोयाबीन, धान, मक्का, आलू, कपास, जीरा, अनार, केला, प्याज़, टमाटर की फसल की खेती (Crop Cultivation) की जानकारी और नई किस्मे। गेहू, चना, मूंग, सोयाबीन, धान, मक्का, आलू, कपास, जीरा, अनार, केला, प्याज़, टमाटर की फसल में कीट नियंतरण एवं रोग नियंतरण। सोयाबीन में बीज उपचार कैसे करे, गेहूँ मैं बीज उपचार कैसे करे, धान मैं बीज उपचार कैसे करे, प्याज मैं बीज उपचार कैसे करे, बीज उपचार का सही तरीका। मशरुम की खेती, जिमीकंद की खेती, प्याज़ की उपज कैसे बढ़ाए, औषदि फसलों की खेती, जुकिनी की खेती, ड्रैगन फ्रूट की खेती, बैंगन की खेती, भिंडी की खेती, टमाटर की खेती, गर्मी में मूंग की खेती, आम की खेती, नीबू की खेती, अमरुद की खेती, पूसा अरहर 16 अरहर क़िस्म, स्ट्रॉबेरी की खेती, पपीते की खेती, मटर की खेती, शक्ति वर्धक हाइब्रिड सीड्स, लहसुन की खेती। मूंग के प्रमुख कीट एवं रोकथाम, सरसों की स्टार 10-15 किस्म स्टार एग्रीसीड्स, अफीम की खेती, अफीम का पत्ता कैसे मिलता है?

फसल की खेती (Crop Cultivation)

गेहूं की 9 किस्मों की बेहतरीन उपज

22 फरवरी 2021, इंदौर । गेहूं की 9 किस्मों की बेहतरीन उपज – गत दिनों भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, इंदौर के वैज्ञानिकों द्वारा धार जिले के नालछा ब्लॉक के ग्राम भीलबरखेड़ा, कागदीपुरा और भड़किया में गेहूं की 9 किस्मों के

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
फसल की खेती (Crop Cultivation)

लगाएं जायद में मूंगफली

 डॉ. स्वप्रिल दुबे मो. : 9826499725 22 फरवरी 2021, भोपाल। बुनियादी ढांचे और खेती पर केन्द्रित – तिलहनी फसलों के मुकाबले मूंगफली एक ऐसी फसल है, जो भारत के 40 प्रतिशत क्षेत्र में उगाई जाती है। मूंगफली के बीज में

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
फसल की खेती (Crop Cultivation)

आया गर्मियों की मूंग लगाने का समय

दलहनी फसलों में मूंग एक महत्वपूर्ण फसल है। पौष्टिक गुणवत्ता के कारण इसे अधिक पसंद किया जाता है। मूंग में प्रोटीन बहुत अधिक मात्रा में पाई जाती है। इसके अलावा इसमें कार्बोहाइड्रेट्स, खनिज तत्व एवं विटामिन्स भी होते हैं कम

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
Advertisements
फसल की खेती (Crop Cultivation)

प्रदेश में धान की 37 लाख मी. टन से अधिक खरीदी हुई

भोपाल, 25 जनवरी 2021। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि इस वर्ष प्रदेश में धान की समर्थन मूल्य पर रिकार्ड खरीदी 37.26 लाख मीट्रिक टन हुई है। किसानों को 5 हजार करोड़ रूपए का भुगतान कर दिया

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
फसल की खेती (Crop Cultivation)

गेहूं में जल प्रबंध

25 जनवरी 2021 भोपाल । गेहूं फसल असिंचित अद्र्धसिंचित तथा पूर्ण सिंचित परिस्थितियों में उत्पादित किया जाता है। असिंचित गेहूं की खेती खरीफ के रिक्त खेतों में मानसून वर्षा के संरक्षित जल पर आधारित होती है। अद्र्धसिंचित गेहूं की खेती

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
फसल की खेती (Crop Cultivation)

प्रदेश में रबी बोनी लक्ष्य से कम हुई

25 जनवरी 2021 भोपाल । मध्य प्रदेश में रबी फसलों की बुवाई लक्ष्य से कम होने की संभावना है। क्योंकि अब तक लक्ष्य के विरुद्ध 96 फीसदी बोनी हुई है। बुवाई में कमी गेहूं का लक्ष्य पूरा नहीं होने के

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
Advertisements
फसल की खेती (Crop Cultivation)

फूलों की खेती मुनाफे की

25 जनवरी 2021 भोपाल। वर्तमान संदर्भ में खेती को लाभकारी बनाने के प्रयास जोर शोर से किये जा रहे हैं। खेत के कुछ भाग में फल वृक्ष, पशुपालन, मशरूम पालन, मछली पालन करके मिश्रित खेती की ओर कृषकों को आकर्षित

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
फसल की खेती (Crop Cultivation)

तो ऐसे करें लाख की खेती

लाख फसल तो ऐसे करें लाख की खेती – भारत में कुसमी और रंगीनी दो प्रकार की लाख फसल होती है। कुसमी लाख कुसुम के पौधों पर होती है जबकि रंगीनी लाख मुख्यत: पलाश बेर के पौधे पर पाले जाते

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
फसल की खेती (Crop Cultivation)

देशी वनस्पतियां औषधीय गुणों से भरपूर

देशी वनस्पतियां औषधीय गुणों से भरपूर – वर्तमान समय में कोरोना जैसी महामारियों के दौर को देखते हुए राजस्थान के शुष्क क्षेत्रों में आसानी से पाए जाने वाले औषधीय पादपों एवं उनके उपयोग के बारे में जानकारी होना अत्यंत आवश्यक

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
फसल की खेती (Crop Cultivation)

रबी फसलों के विषाणु जनित रोग व उनका समेकित नियंत्रण

रबी फसलों के विषाणु जनित रोग व उनका समेकित नियंत्रण – विषाणु अति सूक्ष्मदर्शी अविकल्पी परजीवी होते हैं जो कि अत्यधिक संक्रामक एवं परपोषी विशिष्ट होते हैं। फसलों में विषाणु रोगों के प्रकोप से काफी नुकसान होता है। विषाणु रोगों

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें