राज्य कृषि समाचार (State News)

एमपी यू ए टी अकादमिक परिषद की बैठक संपन्न

Share

30 सितम्बर 2022, उदयपुर: एमपी यू ए टी अकादमिक परिषद की बैठक संपन्न – महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय की अकादमिक परिषद की 59वीं बैठक का आयोजन गुरु वार को माननीय कुलपति प्रो. आई. वी. त्रिवेदी की अध्यक्षता मे एम पी यू ए टी प्रशासनिक भवन मे स्थित कुलपति सचिवालय मे किया गयाl विश्वविद्यालय के  कुलसचिव श्री मुकेश कुमार ने बताया कि अकादमी परिषद की बैठक में विशेष आमंत्रित शिक्षाविद के रूप में विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति प्रो. एस. एस. चहल भी उपस्थित थेl बैठक में विश्वविद्यालय के सभी महाविद्यालयों के अधिष्ठाता, निदेशक, विभागाध्यक्ष एवं कुलसचिव श्रीमती मंजू बाला जैन भी उपस्थित थीl  बैठक में विगत  दिसम्बर में आयोजित अकादमिक परिषद की बैठक में लिए गए निर्णय  एवं अनुपालन रिपोर्ट प्रस्तुत की गई। 

प्रो चहल ने कहा कि यू जी सी द्वारा  नई शिक्षा नीति मे विधार्थियों द्वारा अपनी रुचि के विषय चुनने की कैफेटेरिया अप्रोच देश के कृषि विश्व विद्यालयो और आई सी ए आर सिस्टम मे पहले से मौजूद है, यू जी सी ने इसे विस्तृत रूप से अपनाया है जो कि स्वागत योग्य है। प्रो त्रिवेदी ने विभिन्न मुद्दों पर विस्तृत चर्चा की एवं तर्क संगत विषयों के लिये योग्य अधिकारियों की कमेटी बना कर पुनः सदन के पटल पर रखने के निर्देश दिये। उन्होंने बताया कि उदयपुर संभाग मे उध्यानिकी के विकास की विपुल संभावना को देखते हुए नवीन उध्यानिकी महाविद्यालय प्रारंभ करने के लिए राज्य सरकार को प्रस्ताव भेजा जाना चाहिये। अकादमी परिषद की बैठक में मुख्यतः निम्न बिंदुओं पर चर्चा के पश्चात् निर्णय लिए गए। 

1. डीन डेरी टेक्नोलॉजी, डॉ लोकेश गुप्ता के प्रस्ताव पर महाविद्यालय के नए लोगो का अनुमोदन कर उसे महाविद्यालय के उपयोग उपयोग हेतु अनुमति प्रदान की गई। 

2. कृषि विज्ञान मत्स्य की डेरी टेक्नोलॉजी एवं अभियांत्रिकी के विभिन्न पाठ्यक्रमों मैं सुधार हेतु संबंधित महाविद्यालयों में गठित बोर्ड ऑफ स्टडीज के प्रस्तावों को अनुमोदित करते हुए विभिन्न संस्थाओं के स्नातक एवं स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों को लागू करने के लिए अनुमति प्रदान की गई। 

3.अधिष्ठाता डॉ. मीनू श्रीवास्तव के प्रस्ताव पर सामुदायिक एवं व्यावहारिक विज्ञान महाविद्यालय में संचालित स्टूडेंट रेडी प्रोग्राम के तीन कंपोनेंट जिसमें स्किल डेवलपमेंट, इन-प्लांट ट्रेनिंग एवं प्रोजेक्ट वर्क शामिल है, के संचालन का अनुमोदन किया गया।

4. विश्व विद्यालय के कृषि, कृषी अभियांत्रिकी एवं मतस्यकी संकायो मे विस्तृत विषय वस्तु निर्धारण के लिए भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद द्वारा गठित बी. एस. एम.ए.कमेटियों के प्रस्ताव पर अकादमिक सत्र 2022 23 से स्नातकोत्तर एवं विद्यावाचस्पति के पाठ्यक्रमों मैं संशोधित सिलेबस का अनुमोदन किया गया । 

5. अभियांत्रिकी महाविद्यालय के अधिष्ठाता डॉ पी के सिंह के प्रस्ताव पर महाविद्यालय में विगत वर्ष प्रारंभ किए गए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एवं डाटा साइंस पर नवीन बीटेक के 3 वर्ष के सिलेबस का अनुमोदन किया गया।

6. अभियांत्रिकी महाविद्यालय में खाद्य प्रसंस्करण विभाग में कोर्स कमेटी के प्रस्ताव पर स्नातक स्तर पर उद्यमिता एवं स्टार्टअप पर आधारित खाद्य प्रसंस्करण विषय सम्मिलित करने एवं पीएचडी कार्यक्रमों में भी पोस्ट हार्वेस्ट इंजीनियरिंग, मिलिंग ऑफ फूड मैटेरियल, इत्यादि विषयों के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया। 

7. अकादमिक परिषद में कुलपति प्रो. आई. वी. त्रिवेदी एवं प्रो एस. एस. चहल ने अधिष्ठाता मत्स्यकी महाविद्यालय डॉ बी. के. शर्मा की अध्यक्षता में बनी कमेटी द्वारा प्रस्तावित विश्वविद्यालय के अकादमिक वर्ष 2022-23 के प्रोस्पेक्टस का विमोचन एवं अनुमोदन किया गया। 

बैठक का संचालन कुलसचिव मुकेश कुमार एवं कुलपति विशेषाधिकार डॉ विरेंद्र नेपालिया ने किया। डॉ पी. के. सिंह ने धन्यवाद ज्ञापित किया। 

महत्वपूर्ण खबर: पीएम-किसान की 12वीं किस्त 17 अक्टूबर को किसानों के खाते में जमा होगी

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्राम )

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *