किसानों को बताये खरीफ फसलों के उन्नत तरीके

Share

खंडवा जिले में ‘आत्मा’ के पी.पी. पार्टनर के.जे. एजुकेशन सोसायटी द्वारा वि.ख. पंधाना, खालवा एवं छैगांव माखन में खरीफ के फार्म स्कूल प्रारंभ किये। विख. खालवा के ग्राम रजूर में फार्म स्कूल एवं ग्राम नीमखेड़ा में आवासीय अध्ययन वि.ख. छैगांव माखन के ग्राम सोनुद में फार्म स्कूल एवं ग्राम हरसवाड़ा में आवासीय अध्ययन एवं वि.ख. पंधाना के ग्राम गरणगांव में फार्म स्कूल एवं ग्राम फूलगांव में आवासीय अध्ययन दिया गया। जिसमें कृषि विज्ञान केन्द्र खंडवा के वैज्ञानिक डॉ. सुभाष रावत ने किसानों को आने वाले खरीफ में फसलों में होने वाली बीमारियों के नियंत्रण के उपाय बताये। डॉ. रावत ने किसानों को बीजोपचार कर बोवनी करने एवं फसल चक्र अपनाने की जानकारी भी दी। वि.ख. खालवा के विकासखंड तकनीकी प्रबंधक रवि छापरे ने किसानों को उचित समय पर सही तरीके से फसल सुरक्षा को अपनाने की बात कही। विकासखंड छैगांव माखन में कृषि विस्तार अधिकारी श्री डी.आर सिलावट, श्री पी.एस. सोलंकी एवं श्रीमती संगीता डाबर ने किसानों को विभागीय योजनाओं के बारे में विस्तृत जानकारी दी। विकासखंड पंधाना के वि.ख. तकनीकी प्रबंधक शैलेन्द्र राठौर एवं विषय वस्तु विशेषज्ञ भागीरथ पटेल ने किसानों को आत्मा के अंतर्गत किये जाने वाले कामों को बताया। इस अवसर पर प्रत्येक विकासखंड में समूह दक्षता निर्माण भी किया गया। जिसमें डॉ. रावत में समूह बनाकर खेती करने के विषय में जानकारी दी। तीनों विकासखंडों के फार्म स्कूल में एचीवर कृषक को आई.पी.एम., आईएनएम सामग्री वितरित की गई। इस अवसर पर के.जे. एजुकेशन सोसायटी भोपाल के जिला संयोजक रामस्वरूप लौवंशी उपस्थित रहे।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.