राज्य कृषि समाचार (State News)

छत्तीसगढ़ में किसानों से मिलने खेतों में पहुंचे कलेक्टर श्री सिन्हा

Share

पुसौर क्षेत्र में किसान कर रहे सरसों की खेती, कलेक्टर ने कहा किया जाएगा वेल्यू एडिशन

7 फरवरी 2023,  रायगढ़ । छत्तीसगढ़ में किसानों से मिलने खेतों में पहुंचे कलेक्टर श्री सिन्हा – कलेक्टर श्री तारन प्रकाश सिन्हा आज पुसौर विकासखण्ड के दौरे पर रहे। यहां वे कृषि विभाग के कार्यों के जमीनी स्तर पर क्रियान्वयन को देखने के साथ ही किसानों से मिलने सीधे उनके खेतों तक पहुंचे। यहां किसान श्री ललित पटेल ने चार एकड़ में सरसों की खेती की है। कलेक्टर श्री सिन्हा ने किसान से मुलाकात कर फसल उत्पादन के बारे में जानकारी ली। किसान श्री पटेल ने बताया कि वे यहां पहली बार सरसों की फसल ले रहे है। कलेक्टर श्री सिन्हा ने इस पर कहा कि शासन ने राजीव गांधी किसान न्याय योजना में दलहन-तिलहन फसलों को भी शामिल किया है और यह देखकर खुशी हो रही है कि किसान उसका लाभ ले रहे है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र के किसान काफी प्रोगेसिव है तथा फसल चक्र का महत्व समझते हुए बदल-बदल कर फसलें ले रहे है। सीईओ जिला पंचायत श्री अबिनाश मिश्रा ने बताया कि पुसौर क्षेत्र के किसान इस बार करीब 136 एकड़ में सरसों की खेती कर रहे है। जिसके लिए कृषि विभाग की ओर से सहयोग प्रदान किया जा रहा है। कलेक्टर श्री सिन्हा ने किसानों की फसल बिक्री लागत व आय के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने कहा कि एफपीओ गठन कर ऐसे किसानों के फसलों में वेल्यू एडिशन करने में जिला प्रशासन पूरा सहयोग करेगा, जिससे किसानों को उनकी उपज का बेहतर दाम मिले तथा वेल्यू एडिशन पश्चात तैयार उत्पादों को अच्छा मार्केट भी मुहैय्या हो सके।

15 मार्च तक पूर्ण करें रीपा का कार्य

कलेक्टर श्री तारन प्रकाश सिन्हा ने सूपा गौठान का भी निरीक्षण किया। यहां उन्होंने चल रहे ग्रामीण औद्योगिक पार्क के  निर्माण कार्यों का जायजा लिया। उन्होंने कहा कि काम की गति धीमी है, इसे बढ़ाने की जरूरत है। उन्होंने 15 मार्च तक काम पूरा करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही उन्होंने गौठान में गोबर खरीदी व वर्मी कम्पोस्ट निर्माण के बारे में जानकारी ली। गौठान समिति के सदस्यों ने बताया कि यहां से 755 क्विंटल से अधिक कम्पोस्ट बेचा जा चुका है। महिला समूहों को साढ़े तीन लाख रुपये से अधिक का लाभांश मिला है। इसके साथ ही यहां बाड़ी भी लगायी गयी है, जिसमें टमाटर, केला, तरबूज आदि उगाये जा रहे है। कलेक्टर श्री सिन्हा ने ग्रामीण औद्योगिक पार्क में शुरू होने वाले गतिविधियों के बारे में भी जानकारी ली। समिति सदस्यों ने बताया कि यहां हल्दी प्रोसेगिंग यूनिट, फर्नीचर तथा कोसा का काम किया जाएगा। उन्होंने गौठान में नियमित रूप से गोबर खरीदी करने के निर्देश दिए। इस दौरान सीईओ जिला पंचायत श्री अबिनाश मिश्रा, एसडीएम श्री गगन शर्मा भी उपस्थित रहे।

महत्वपूर्ण खबर: छत्तीसगढ़ में ग्रामीण उद्योग नीति बनाने की प्रक्रिया जल्द प्रारंभ की जाए: मुख्यमंत्री श्री बघेल

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *