15 दिसंबर को खलघाट और छैगांव माखन में चक्काजाम

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें

09 दिसम्बर 2020, इंदौर। 15 दिसंबर को खलघाट और छैगांव माखन में चक्काजामकिसानों की नहर संबंधी,सीसीआई द्वारा कपास की समर्थन मूल्य पर खरीदी और मिर्च फसल का मुआवजा देने की मांग को अनसुना किए जाने पर भारतीय किसान संघ मालवा प्रान्त की धामनोद में हुई बैठक में आगामी 15 दिसंबर को खलघाट और छैगांवमाखन राजमार्ग पर चक्काजाम करने का निर्णय लिया है , जिसमें पांच जिलों के किसान शामिल होंगे l

धामनोद बैठक में शामिल हुए भा.कि.सं के अध्यक्ष श्री गोपाल बर्फा मनावर ने कृषक जगत को बताया कि भा.कि.सं. की तीन प्रमुख मांगें हैं -सीसीआई द्वारा समर्थन मूल्य पर सभी कपास की खरीदी, मान और ओंकारेश्वर नहर परियोजना के चौथे चरण का पानी अंतिम छोर तक पहुंचाना और 2019 में बर्बाद हुई मिर्च फसल का मुआवजा देने की है l श्री बर्फा ने बताया कि मनावर तहसील में सिंघाना और बाकानेर में सीसीआई खरीदी केंद्र है , लेकिन मनावर में नहीं है , जबकि पहले यहां खरीदी केंद्र था l इसके लिए किसान कई दिनों से मांग कर रहे हैं, लेकिन ध्यान नहीं दिया जा रहा है l इसके लिए धार सांसद श्री छतरसिंह दरबार ने भी सीसीआई को पत्र लिखा था , लेकिन खरीदी केंद्र शुरू नहीं हुआ l सीसीआई सभी किसानों का कपास समर्थन मूल्य पर खरीदे l यहां के सीसीआई खरीदी केंद्रों पर खरीदी के बाद दो -तीन दिन तक ट्रॉलियां खाली नहीं होने से किसान परेशान होते हैं l जो किसान भाड़े पर ट्राली लाते हैं उन्हें अलग से किराया देना पड़ता है l यह व्यवस्था सुधरना चाहिए l

श्री बर्फा ने कहा कि ओंकारेश्वर परियोजना के चौथे चरण का लाभ 2014 में मिल जाना था, जो अब तक नहीं मिला है l इसी तरह मान नहर का पानी भी लोहारी तक भी नहीं पहुंचा है मनावर -कुक्षी तहसील के कई गांव के किसान नहर के पानी से वंचित हैं l इस लेकर भा.कि.सं ने कई बार मांग की और ज्ञापन भी सौंपें लेकिन सरकार ने ध्यान नहीं दिया l गत 27 नवंबर को भी आयुक्त , नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण , इंदौर को पत्र लिखकर समाधान की मांग की थी , लेकिन कुछ नहीं हुआ तो चक्का जाम करने का निर्णय लेना पड़ा है l

उल्लेखनीय है कि 15 दिसंबर को खलघाट और छैगांवमाखन राजमार्ग पर प्रस्तावित चक्काजाम से यातायात बुरी तरह होगा और महाराष्ट्र से सम्पर्क कट जाएगा l खलघाट के चक्काजाम में धार ,बड़वानी जिलों के किसान के अलावा खरगोन जिले कि 6 तहसीलों भगवानपुरा ,गोगांवा , सेगांव,महेश्वर ,खरगोन और कसरावद तहसील के किसान शामिल होंगे,वहीं छैगांवमाखन में खंडवा और बुरहानपुर जिलों के अलावा झिरन्या ,बड़वाह,सनावद और भीकनगांव तहसील के किसान शामिल होंगे l

महत्वपूर्ण खबर : मध्य प्रदेश शासन के सामान्य एवं ऐच्छिक अवकाश

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Open chat
1
आपको यह खबर अपने किसान मित्रों के साथ साझा करनी चाहिए। ऊपर दिए गए 'शेयर' बटन पर क्लिक करें।