राष्ट्रीय कृषि समाचार (National Agriculture News)

3 वर्षों में 5 लाख 43 हजार करोड़ की सब्सिडी फर्टिलाईजर कंपनियों को

Share

22 जुलाई 2023, नई दिल्ली: 3 वर्षों में 5 लाख 43 हजार करोड़ की सब्सिडी फर्टिलाईजर कंपनियों को – गत 3 वर्षों में केन्द्र सरकार द्वारा उर्वरक सब्सिडी के रूप में 5 लाख 43 हजार करोड़ रुपए फर्टिलाईजर कंपनियों को दिए गए हैं। ये जानकारी उर्वरक राज्य मंत्री श्री भगवंत खुंबा ने लोकसभा में दी। श्री खुंबा ने बताया कि कंपनियों को किसानों तक यूरिया पहुंचाने में आने वाली लागत और शुद्ध बाजार मूल्य प्राप्ति के बीच के अंतर को भारत सरकार द्वारा यूरिया निर्माता, इंपोर्टर को सब्सिडी के रूप में दिया जाता है। इस प्रकार सभी किसानों को यूरिया सब्सिडी पर दिया जा रहा है। उर्वरक राज्य मंत्री ने तीन वर्ष में दी गई सब्सिडी की जानकारी दी।

उल्लेखनीय है कि यूरिया की 45 किलोग्राम की बोरी का एमआरपी 242 रुपए (नीम कोटिंग एवं अन्य करों के अलावा) है।

1. वर्ष 2020-21 1,31,229.40 करोड़

2. वर्ष 2021-22 1,57,640.09 करोड़

3. वर्ष 2022-23 2,54,841.43 करोड़

इसके अलावा जैविक उर्वरकों को बढ़ावा देने के उद्देश्य से आर्थिक कार्यों की मंत्रिमंडल समिति (सीसीईए) ने गोबरधन पहल के तहत बायोगैस संयंत्रों में बनी खाद के लिए 1500 रुपए प्रति मीट्रिक टन की बाजार विकास सहायता को मंजूरी दी है। इस योजना में वर्ष 2025-26 तक 1451.84 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्राम )

Share
Advertisements