उद्यानिकी (Horticulture)

जैविक खेती के लिए काउ हॉस्टल बनाने की आवश्यकता

Share

नई दिल्ली। देश के सभी महानगरों के बीच में काउ हॉस्टल की बनाने की आवश्यकता है, ताकि महानगर में भी गाय पालना आसान हो सके और देसी गाय से जैविक खेती कर सके। यह बातें केंद्रीय राज्य मंत्री, कृषि और किसान कल्याण, श्री पुरुषोत्तम रूपाला ने नोएडा, उत्तर प्रदेश में आयोजित एक कार्यक्रम में कहीं।
मल्टी लेयर फार्मिंग प्रशिक्षण शिविर में श्री रूपाला ने कहा कि भारत में पहले से ही जैविक खेती होती थी। बस किसानों को समझाने की आवश्यकता है। हम सब को किसान की आय दुगनी कैसी हो इसके बारे में सोचना चाहिए। इसके लिए एक संगठन खड़ा करने की आवश्यकता है।
ऑर्गेनिक खेती एक्सपर्ट श्री दीपक नदवेडे ने कहा कि अगली पीढ़ी को विष मुक्त भोजन दे सकें इसके लिए जरूरी है रसायन मुक्त खेती करें।
मल्टी लेयर खेती एक्सपर्ट श्री आकाश चौरसिया ने बताया कि रसायन का प्रयोग हरित क्रांति के दौरान पैदावर बढ़ाने के लिए था लेकिन हमने लालच में आकर अति कर दिया। हमें प्रकृति को बचाने के लिए जैविक खेती करनी होगी। राज्य सभा सांसद श्री आर. के सिन्हा ने बताया कि देसी गाय पालन को बढ़ाने की आवश्यकता है।

Share
Advertisements

2 thoughts on “जैविक खेती के लिए काउ हॉस्टल बनाने की आवश्यकता

  • मसरूम खेती कैसे की जाय उसके लिय कहाँ से ट्रेनिंग ले नी चाहिए मै सुरेन्द्र कुमार चौहान उत्तर प्रदेश लखनऊ से हूँ अजोला पैदावार और बीज सरंक्षण कैसे करे,

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *