राज्य कृषि समाचार (State News)

कटनी में कृषि विभाग ने जारी किया केन्द्रों के स्थल का संशोधित आदेश

Share

10 जुलाई 2024, कटनी:  कटनी में कृषि विभाग ने जारी किया केन्द्रों के स्थल का संशोधित आदेश – कटनी जिले में ई- उपार्जन पोर्टल पर पंजीकृत पात्र कृषकों से समर्थन मूल्य पर औसत अच्छी गुणवत्ता के ग्रीष्म कालीन मूंग व उड़द के उपार्जन हेतु बनाये गए 11 उपार्जन केन्द्रों मे से ई- उपार्जन पोर्टल में 8 उपार्जन केन्द्रों की अनुमति प्राप्त होने के कारण जिले मे वर्तमान मे 8 केन्द्रों में ही मूंग व उड़द की खरीदी हो रही है। उपसंचालक किसान कल्याण तथा कृषि विभाग ने बताया कि  पूर्व  में  जारी उपार्जन केन्द्रों के उपार्जन स्थलों मे संशोधन किया गया है।

जिले के संशोधित 8 उपार्जन केन्द्रों के नाम ,उपार्जन संस्था व स्थल –    कलेक्टर श्री प्रसाद ने कटनी नगर में विपणन सहकारी संस्था कटनी उपार्जन संस्था और सी डब्ल्यू सी वेयर  हाऊस  इन्द्रा नगर कटनी उपार्जन स्थल बनाया गया है। ढीमरखेडा तहसील में ही प्राथमिक कृषि साख समिति झिन्ना पिपरिया को उपार्जन संस्था एवं शिवान्या वेयर हॉउस 79 झिन्ना पिपरिया को उपार्जन स्थल तथा बड़वारा तहसील में किसान सहकारी विपणन समिति बडवारा को उपार्जन संस्था उपार्जन स्थल राय वेयर हाउस यूनिट -2 तथा बरही तहसील में प्राथमिक कृषि साख समिति पिपरियाकला को उपार्जन संस्था एवं  ललिराज वेअर हाउस -106 बरही को उपार्जन स्थल एवं बहोरीबंद तहसील में प्राथमिक कृषि साख समिति बहोरीबंद को उपार्जन संस्था व एस डब्ल्यू सी वेयर हाऊस 144 को उपार्जन स्थल  और बहोरीबंद तहसील में प्राथमिक कृषि साख समिति कुँआ को उपार्जन संस्था और नरसिंह वेयर हाउस जुजावल को उपार्जन स्थल बनाया गया है।

इसी प्रकार विजयराघवगढ तहसील में प्राथमिक कृषि साख समिति सिंगौडी को उपार्जन संस्था एवं अन्नपूर्णा वेयर हाउस 133 डोकरिया को उपार्जन स्थल के अलावा रीठी तहसील में कृषि विपणन सहकारी समिति रीठी को उपार्जन संस्था एवं पूजा वेयर हाउस 101, ग्राम देवडोंगरा को उपार्जन स्थल बनाया गया है।समर्थन मूल्य  उपार्जन नीति के अनुसार औसत अच्छी गुणवत्ता  के ग्रीष्मकालीन मूंग के उपार्जन हेतु समर्थन मूल्य क्रमशः  8 हज़ार 558 रूपए प्रति क्विंटल तथा  उड़द का समर्थन मूल्य 6 हजार 950 रूपए-प्रति क्विंटल निर्धारित है।उपार्जन कार्य सप्ताह में 5 दिवस सोमवार से शुक्रवार प्रातः 8.00 बजे से सांय 8.00 बजे तक किया जायेगा।

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्रामव्हाट्सएप्प)

(कृषक जगत अखबार की सदस्यता लेने के लिए यहां क्लिक करें – घर बैठे विस्तृत कृषि पद्धतियों और नई तकनीक के बारे में पढ़ें)

कृषक जगत ई-पेपर पढ़ने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें:

www.krishakjagat.org/kj_epaper/

कृषक जगत की अंग्रेजी वेबसाइट पर जाने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें:

www.en.krishakjagat.org

Share
Advertisements