Mandi Rate (मंडी रेट)

आज का सोयाबीन मंडी रेट (01 फरवरी 2024 के अनुसार); बदनावर मंडी में रहा 4600 अधिकतम रेट

Share

01 फरवरी 2024, नई दिल्ली: आज का सोयाबीन मंडी रेट (01 फरवरी 2024 के अनुसार); बदनावर मंडी में रहा 4600 अधिकतम रेट – नीचे दी गई तालिका में पूरे भारत में सोयाबीन की मंडी दरें हैं। इसमें सोयाबीन की न्यूनतम, अधिकतम और मोडल दर का उल्लेख है |

मध्य भारत में सबसे ज्यादा रेट मध्य प्रदेश की बदनावर मंडी में था। अधिकतम रेट 4600/- रु./क्विं. था और मंडी में कुल 68.13 टन आवक थी। नीचे भारत की मंडियों की पूरी सूची और उसके साथ दरें दी गई हैं।

देश की प्रमुख मंडियों में सोयाबीन के मंडी रेट और आवक (01 फरवरी 2024 के अनुसार)
गुजरात मंडी आवक (टन में)न्यूनतम रेट (रु./क्विं.)अधिकतम रेट (रु./क्विं.)मोडल रेट (रु./क्विं.)
बगसरा1.4300041253562
दाहोद18455046004575
धोराजी1.6416044054405
हिम्मतनगर9400043054153
खेडब्रह्मा1420044004300
कोडिनार40375044504375
पोरबंदर0.02387541254000
सावरकुंडला3400043504175
वेरावल5.08413543904265
मध्य प्रदेश मंडी आवक (टन में)न्यूनतम रेट (रु./क्विं.)अधिकतम रेट (रु./क्विं.)मोडल रेट (रु./क्विं.)
आलीराजपुर36.28435043584350
बदनावर49.68378046003850
ब्यावरा0.11396544004275
दमोह23.4380044003800
देवास0.87350045264391
धामनोद1.6406040604295
गंज बासौदा18.69402541004200
हरदा1.12260143814270
इंदौर3.29431045552500
जोबट9.1430043004300
मन्दसौर2.73406143904481
महाराष्ट्र मंडी आवक (टन में)न्यूनतम रेट (रु./क्विं.)अधिकतम रेट (रु./क्विं.)मोडल रेट (रु./क्विं.)
औरंगाबाद4422642514238
गंगाखेड2470048004700
हिंगोली60405044254237
हिंगोली(केनगांव नाका)11423043004265
जिंतुर5432543814341
करंजा300405044154270
पठारी1350043504300
उमरखेड़10460046504620
राजस्थान मंडी आवक (टन में)न्यूनतम रेट (रु./क्विं.)अधिकतम रेट (रु./क्विं.)मोडल रेट (रु./क्विं.)
अकलेरा54420045404370
बारां150439045514500
बूंदी20420044124306
डीईआई(बूंदी)19435044994400
खानपुर100325046494450
कोटा337410045904400
आज का सोयाबीन मंडी रेट (01 फरवरी 2024 के अनुसार); बदनावर मंडी में रहा 4600 अधिकतम रेट

(कृषक जगत अखबार की सदस्यता लेने के लिए यहां क्लिक करें – घर बैठे विस्तृत कृषि पद्धतियों और नई तकनीक के बारे में पढ़ें)

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्राम)

Share
Advertisements