फसल की खेती (Crop Cultivation)

मध्यप्रदेश के किसान गेंहू की बुवाई के लिए डालें इतनी बीज की मात्रा

Share

18 नवम्बर 2023, भोपाल: मध्यप्रदेश के किसान गेंहू की बुवाई के लिए डालें इतनी बीज की मात्रा – गेंहू भारत की धान्य फसल है जिसकी खेती भारत के करीब सभी राज्यों में की जाती हैं। वर्तमान में गेंहू की बुवाई का समय चल रहा हैं। इसके लिए किसान चिंतित हैं कि वह बुवाई के लिए बीज की कितनी  मात्रा उपयोग करें। वैसे सभी क्षेत्रों में बीज की मात्रा अलग होती हैं। बीज की दर सिंचित तथा बारानी क्षेत्रों पर निर्भर करती हैं।

मध्यप्रदेश के किसान औसत रूप में 100 कि.ग्रा./हे. (हजार दाने का वजन 40 ग्राम तक है) बीज का उपयोग करें। हजार दाने का वजन 1 ग्राम बढ़ने पर (40 ग्राम के उपर), 2.5 कि.ग्रा. प्रति/हे. बढ़ाते जायें। असिंचित / अर्धसिंचित स्थिति में कतार से कतार की दूरी 25 से.मी. रखें और सिंचित (समय से) बुवाई की स्थिति में 23 से.मी. रखें। इसके अलावा बीज को उर्वरक के साथ न मिलाये। इससे 32 प्रतिशत  अंकुरण की कमी (5 वर्षो के अनुसंधान आँकड़े) हो सकती है।

क्योंक गेहूँ  की फसल में अनुकूल मौसम होने पर प्रत्येक अवस्था में क्षतिपूर्ति रखने की क्षमता है। अतः बीज कम फर्टिलाइजर ड्रिल का प्रयोग करें।

(कृषक जगत अखबार की सदस्यता लेने के लिए यहां क्लिक करें – घर बैठे विस्तृत कृषि पद्धतियों और नई तकनीक के बारे में पढ़ें)

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्राम)

Share
Advertisements