1 लाख 89 हजार पशुओं में टीकाकरण : श्री कटारिया

Share

गौवंशीय पशुओं में लम्पी रोग से बचाव हेतु

3 सितम्बर 2022, जयपुर  1 लाख 89 हजार पशुओं में टीकाकरण : श्री कटारिया  – पशुपालन मंत्री श्री लालचन्द कटारिया ने बताया कि कि राज्य सरकार गौवंशीय पशुओं के प्रति सजगता एवं संवेदनशीलता बरतते हुए रोग नियंत्रण के सभी संभावित उपाय कर रही है। उन्होंने कहा कि विभाग को रोग की जानकारी मिलते ही इसे मिशन मोड पर लेकर सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित की गई है।

श्री कटारिया ने बताया कि हमें इस चुनौति से निपटने लिए ओर मुश्तैदी से काम करना है, ताकि पशुपालकों का नुकसान नही हो। उन्होंने कहा कि राजस्थान की परम्परा रही है कि किसी भी प्रकार आपदा के समय जन प्रतिनिधिगण, स्वयंसेवी संस्थाओं का सहयोग मिलता रहा है, और आगे भी मिलता रहेगा।

श्री कटारिया ने कहा कि इस रोग का बचाव ही उपचार है, ऐसे में जन जागरूकता अभियान के माध्यम से व्यापक प्रचार-प्रसार किये जाने की आवश्यकता है। उन्होंने बताया कि तहसीलदार, पटवारी, कृषि पर्यवेक्षक, ग्रामसेवक आदि के माध्यम से सघन रूप से जन जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है, ताकि आम पशुपालक जानकारी के माध्यम से लाभान्वित हो सकें।

श्री कटारिया ने बताया कि 200 पशु चिकित्साधिकारियों को आवश्यक अस्थायी आधार पर नियुक्ति प्रदान करने के लिए 24 व 25 अगस्त को आवेदकों के दस्तावेजों की जांच का कार्य पूर्ण कर लिया गया है, शीघ्र ही प्राप्तांको के आधार पर वरीयता का निर्धारण कर नियुक्ति आदेश किए जाएंगे।

श्री कटारिया ने बताया कि प्रदेश के गौवंशीय पशुओं में फैल रही लम्पी स्किन डिजीज की रोकथाम के लिए राजस्थान कॉपरेटिव डेयरी फेडरेशन एवं पशुपालन विभाग के संयुक्त तत्वावधान में गौवंशीय पशुओं में टीकाकरण किया जा रहा है, उन्होंने बताया कि अब तक अजमेर 46 हजार 380 कुचामन सिटी 37 हजार 697 भरतपुर 11 हजार 682, चित्तौडग़ढ़ 10 हजार 133 अलवर 22 हजार 681, जयपुर 4 हजार 471, झुन्झुनू 3 हजार 651 बांसवाड़ा 9 हजार राजसमन्द 2 हजार 33 सहित 19 जिलों में कुल 1 लाख 89 हजार 11 पशुओं में टीकाकरण किया गया हैं। पशुपालन विभाग के शासन सचिव श्री पी. सी. किशन ने बताया कि राज्य सरकार पूरी गंभीरता व संवेदनशीलता के साथ पशुओं में फैल रहे लम्पी डिजीज पर नियंत्रण पाने के लिए कार्य कर रही है। उन्होंने बताय कि विभागीय प्रयासों एवं स्थानीय प्रशासन की त्वरित क्रियाशीलता के चलते कुछ जिलों में संक्रमण एवं मृत्यु दर में कमी आई है।

महत्वपूर्ण खबर:चंबल संभाग में कई जगह वर्षा, 6 जिलों में कहीं -कहीं भारी वर्षा संभावित

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.