राष्ट्रीय कृषि समाचार (National Agriculture News)

मतदाता जागरुकता अभियान में तेजी लायें : श्री कुमार

Share

19 अप्रैल 2024, नई दिल्ली: मतदाता जागरुकता अभियान में तेजी लायें : श्री कुमार – मुख्य निर्वाचन आयुक्त, श्री राजीव कुमार ने निर्वाचन सदन, नई दिल्ली से लोकसभा निर्वाचन-2024 के लिये निुयक्त सामान्य, पुलिस एवं व्यय प्रेक्षकों के साथ वीसी के जरिये तैयारियों की समीक्षा बैठक की। बैठक में निर्वाचन आयुक्त श्री ज्ञानेश कुमार एवं डॉ. सुखबीर सिंह संधू भी उपस्थित थे।

बैठक में मुख्य निर्वाचन आयुक्त श्री कुमार ने विभिन्न राज्यों एवं केन्द्र शासित प्रदेशों में निर्विघ्न निर्वाचन सम्पन्न कराने के लिये नियुक्त केन्द्रीय प्रेक्षकों से सीधी चर्चा कर फीडबैक लिया। श्री कुमार ने प्रेक्षकों से कहा कि वे अपने-अपने संसदीय क्षेत्र से मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिये मतदाता जागरुकता अभियान मे तेजी लायें। प्रयास यह होना चाहिए कि मतदान के दिन मतदाता अपने घरों से निकल कर मतदान जरूर करें।    कोई भी मतदाता मतदान करने से वंचित    न रहे।

केंद्रीय प्रेक्षकों को दिये गये निर्देश

सभी निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान के लिए पहले से तैयारी करना और सभी उम्मीदवारों और राजनीतिक दलों के लिए समान अवसर सुनिश्चित करायें। संसदीय निर्वाचन क्षेत्र के भीतर भौतिक रूप से उपलब्ध रहकर पूरी चुनाव प्रक्रिया के दौरान सजग व सतर्क रहें।

उम्मीदवार और राजनीतिक दलों के बीच मोबाइल/लैंडलाइन/ईमेल/रहने के स्थान और प्रसार का व्यापक प्रकाशन करायें, इससे वे आम जनता/उम्मीदवार और राजनीतिक दलों के लिए दैनिक आधार पर दिये गये नंबरों/पते पर उपलब्ध हों।

85 वर्ष से अधिक और दिव्यांगजनों के लिए घर पर मतदान और व्यक्तियों के लिए पोस्टल बैलेट की प्रक्रिया सुचारू रूप से सम्पन्न हो। यह भी सुनिश्चित हो कि मतदाता सूची राजनीतिक दलों और चुनाव लडऩे वाले उम्मीदवारों को आपूर्ति की जा रही है।

संसदीय क्षेत्र में शिकायत निवारण तंत्र मौजूद रहे

वीसी में बताया गया कि समय पर सुधारात्मक कार्रवाई करने के लिए अधिकृत अधिकारी के समग्र प्रभार के तहत जिलों में एकीकृत नियंत्रण कक्ष स्थापित किए गए हैं। सुनिश्चित करें कि मतदान दिवस के पूर्व मतदाता सूचना पर्चियों का शत-प्रतिशत वितरण कर लिया गया है। सभी आईटी एप्लीकेशन जैसे सी-विजिल, वोटर हेल्पलाइन ऐप, सक्षम ऐप, चुनाव कर्मचारियों द्वारा श्वहृष्टह्रक्रश्व, सुविधा ऐप आदि का उपयोग किया जा   रहा है।

अन्य निर्देश

उडऩ दस्ते, सांख्यिकी निगरानी दल, वीडियो देखने वाले दल, सीमा जांच चौकियां, नाके आदि चौबीसों घंटे अपना काम कर रहे हैं और प्रयास किए जा रहे हैं कि नकदी, शराब, मुफ्तखोर, ड्रग्स/मादक पदार्थों की आवाजाही और वितरण न हो।

मप्र के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री अनुपम राजन और पुलिस महानिरीक्षक (कानून व्यवस्था) एवं राज्य पुलिस नोडल अधिकारी श्री अंशुमन सिंह ने वीसी के जरिये आयोग की बैठक में सहभागिता की।

(कृषक जगत अखबार की सदस्यता लेने के लिए यहां क्लिक करें – घर बैठे विस्तृत कृषि पद्धतियों और नई तकनीक के बारे में पढ़ें)

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्रामव्हाट्सएप्प)

Share
Advertisements