आम का पुराना बगीचा है, कतारों के बीच की खाली जमीन पर क्या कोई फसल ली जा सकती है, कृपया बतायें।

समाधान – फल वृक्षों के बीच में खाली पड़ी जमीन का सद्उपयोग प्राय: सभी कृषक करते हैं आपने अपने आम का पुराना बगीचा लिखा है, हो सकता है पुराने पेड़ घनी शाखाओं वाले हों जिनके कारण दो कतारों के बीच

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें

मैं अपने फार्म पर नींबू, आंवला व आम के पेड़ लगा रखे हैं. फल झडऩे की समस्या है उपाय बतलायें।

समाधान- आप कृषक जगत की नियमित पाठक हैं। जानकर बहुत प्रसन्नता हुई. कृषि में महिला की भागीदारी पर बहुत जोर दिया जाता है वैसे कृषि में महिलाओं की भागीदारी अतीत से चली आ रही है। विशेषकर बुआई में जो कार्य

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें

आम की उन्नत खेती

आम में फूल फरवरी से मार्च तक आते है व मई से अगस्त तक फल प्राप्त होते है3। आम में एकान्तर फलन की समस्या होती है। आम तथा इसके उत्पाद के निर्यात से देश को वर्ष 2016-17 में 2194 करोड़

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
Advertisements

आम के महानायक दीपक भाई

नवसारी। केसर, जम्बोकेसर, हापुस, लंगड़ा, दशेरी, राजापुरी, तोतापुरी जी हाँ आपने सही पहचाना यह वेरायटी आम की है, इन प्रजातियों के 3200 वृक्ष 125 बीघा भूमि पर देखने के लिए आपको नवसारी के नजदीक ग्राम काछीया बाड़ी में आना पड़ेगा।

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें

आम में जैली सीड दैहिक विकार का प्रबंधन

जैली सीड समस्या का प्रबन्धन जैली सीड समस्या के प्रति संवेदनशील प्रजाति संवेदनशील प्रजाति दशहरी में विभिन्न अनुसंधानों द्वारा इस समस्या को रोकने के लिए कई उपाय किये गये, जिनमें से प्राप्त परिणामों के आधार पर महत्वपूर्ण उपाय इस प्रकार

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें

आम के बागों में कीट प्रबंधन

आम के उत्पादन एवं क्षेत्रफल की दृष्टिकोण से भारत विश्व में प्रथम स्थान रखता है। ताजा आंकड़े बताते हैं कि भारत में आम का कुल क्षेत्रफल 2.31 मिलियन हेक्टेयर है जिससे लगभग 15.03 मिलियन टन आम पैदा किया जाता है।

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
Advertisements

आम की फसल में फूल आने लगे हैं, इस बीच अच्छे उत्पादन के लिये क्या करें

– रामरतन चौकसे, खंडवा समाधान -आम एक महत्वपूर्ण नगदी फसल है। जो देश में प्राय: हर जगह लगाया जाता है इसके पौधों का रखरखाव के प्रमुख बिन्दुओं पर ध्यान यदि दिया जाये तो अच्छा उत्पादन  मिल सकता है।  दो कतारों

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें

समस्या – आम मालफार्मेशन के प्रमुख लक्षण तथा कारण बतायें।

– सुरेश मालवीय, परासिया समाधान – आम मालफार्मेशन के बारे में वर्तमान तक कारण विशेष की जानकारी की पुष्टी नहीं हो सकी है। यह बीमारी उत्तरी भारत, विशेषकर पंजाब, दिल्ली, उत्तरप्रदेश में अधिक होती है। इन स्थानों पर 50 प्रतिशत

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें

समस्या – गर्मियों में लगाई जाने वाली फसलों के बारे में जानकारी दें जो कम पानी में अधिक उत्पादन दे सके। ओलावृष्टि से फसल के नुकसान का मुआवजा कब मिलेगा।

शिव कुमार तिवारी, टीकमगढ़ समाधान – रबी की फसल काटने के बाद सिंचाई साधन उपलब्धि की स्थिति में जायद (ग्रीष्मकाल) में मूंग, उड़द, लोबिया, भिंडी और अन्य कद्दूवर्गीय फसल लगा सकते है। कृषक जगत में दिसम्बर माह के अंकों से

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें

आम की खेती

डॉ. नीरज शुक्ला , डॉ. डी.ए. सरनाईक , डॉ पी.एन. सिंह आम को फलों का राजा कहा जाता है और यह हमारे देश का राष्ट्रीय फल है आम में विटामिन ए तथा सी प्रचुर मात्रा में होता है। इस फल

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें