IARI

Crop Cultivation (फसल की खेती)

20-25 दिन की धान फसल में कैसे करें पोषक तत्व प्रबंधन; पूसा संस्थान ने जारी की सलाह

27 जुलाई 2023, भोपाल: 20-25 दिन की धान फसल में कैसे करें पोषक तत्व प्रबंधन; पूसा संस्थान ने जारी की सलाह – भारतीय कृषि अनुसंधान के विशेषज्ञ, डॉ वाई एस शिवे ने कृषकों को धान की फसल में रोपाई के

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
Crop Cultivation (फसल की खेती)

जानिए सरसों की किस्म पूसा स्वर्णिम (आईजीसी-01) की विशेषतांए 

20 जुलाई 2023, भोपाल: जानिए सरसों की किस्म पूसा स्वर्णिम (आईजीसी-01) की विशेषतांए – ब्रैसिका कैरिनाटा (करन राय/इथियोपियाई सरसों) किस्म, राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, हिमाचल प्रदेश, जम्मू और कश्मीर और यूपी के कुछ हिस्सों में खेती के लिए उपयुक्त है। इसमें

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
Crop Cultivation (फसल की खेती)

जानिए सरसों की किस्म पूसा आदित्य (एनपीसी- 9) की विशेषतांए 

20 जुलाई 2023, भोपाल: जानिए सरसों की किस्म पूसा आदित्य (एनपीसी- 9) की विशेषतांए – एक ब्रैसिका कैरिनाटा (करन राय/इथियोपियाई सरसों) किस्म, जो सीमांत और खराब मिट्टी के साथ वर्षा आधारित परिस्थितियों में अच्छा प्रदर्शन करती है। यह सफेद रतुआ के

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
Advertisements
Crop Cultivation (फसल की खेती)

जानिए सरसों की किस्म पूसा आगरानी (एसईजे-2) की विशेषतांए 

20 जुलाई 2023, भोपाल: जानिए सरसों की किस्म पूसा आगरानी (एसईजे-2) की विशेषतांए – यह भारतीय सरसों की पहली जल्दी पकने वाली (110 दिन) किस्म है, जो तोरिया का अच्छा विकल्प है। यह उत्तर पूर्वी और पूर्वी राज्यों में चावल की

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
Crop Cultivation (फसल की खेती)

जानिए सरसों की किस्म पूसा महक (जेडी-6) की विशेषतांए

20 जुलाई 2023, भोपाल: जानिए सरसों की किस्म पूसा महक (जेडी-6) की विशेषतांए – सरसों की किस्म पूसा महक मुख्य रूप से उड़ीसा, झारखंड, छत्तीसगढ़, बिहार, पश्चिम बंगाल, असम और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली में खेती के लिए उपयुक्त है।

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
Crop Cultivation (फसल की खेती)

जानिए सरसों की किस्म पूसा सरसों 25 (एनपीजे-112) की विशेषतांए 

20 जुलाई 2023, भोपाल: जानिए सरसों की किस्म पूसा सरसों 25 (एनपीजे-112) की विशेषतांए – सरसों की किस्म पूसा सरसों  25, राजस्थान, हरियाणा, पंजाब, दिल्ली, जम्मू-कश्मीर के मैदानी इलाकों और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के हिमाचल प्रदेश के क्षेत्रों में खेती के

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
Advertisements
Crop Cultivation (फसल की खेती)

जानिए सरसों की किस्म पूसा सरसों 26 (एनपीजे-113) की विशेषतांए 

20 जुलाई 2023, भोपाल: जानिए सरसों की किस्म पूसा सरसों 26 (एनपीजे-113) की विशेषतांए – सरसों की किस्म पूसा सरसों -26, राजस्थान, हरियाणा, पंजाब, दिल्ली, जम्मू-कश्मीर के मैदानी इलाकों, हिमाचल प्रदेश और पश्चिमी यूपी में खेती के लिए अत्यधिक उपयुक्त हैं।

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
Crop Cultivation (फसल की खेती)

जानिए सरसों की किस्म पूसा सरसों 27 (ईजे-17) की विशेषतांए

19 जुलाई 2023, भोपाल: जानिए सरसों की किस्म पूसा सरसों 27 (ईजे-17) की विशेषतांए – सरसो की किस्म पूसा सरसों  27, बहुफसली प्रणाली के तहत उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश, उत्तराखंड, राजस्थान के कोटा क्षेत्र में खेती के लिए उपयुक्त हैं। यह सितंबर

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
Crop Cultivation (फसल की खेती)

जानिए सरसों की किस्म पूसा सरसों 28 (एनपीजे-124) की विशेषतांए

19 जुलाई 2023, भोपाल: जानिए सरसों की किस्म पूसा सरसों 28 (एनपीजे-124) की विशेषतांए – सरसों की किस्म पूसा सरसों 28 राजस्थान, हरियाणा, पंजाब, दिल्ली, जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश के मैदानी इलाकों, पश्चिमी उत्तर प्रदेश में खेती के लिए अत्यधिक

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
Crop Cultivation (फसल की खेती)

जानिए सरसों की किस्म पूसा तारक (ईजे-9912-13) की विशेषतांए

19 जुलाई 2023, भोपाल: जानिए सरसों की किस्म पूसा तारक (ईजे-9912-13) की विशेषतांए – कम अवधि के कारण सरसों की किस्म पूसा तारक सितंबर से दिसंबर के बीच बहुफसली प्रणाली के लिए उपयुक्त है। यह उन क्षेत्रों के लिए उपयुक्त

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें