राज्य कृषि समाचार (State News)

राजस्थान में ऊंट संरक्षण के लिए 2.60 करोड़ का प्रावधान

Share

26 नवम्बर 2022, जयपुर राजस्थान में ऊंट संरक्षण के लिए 2.60 करोड़ का प्रावधान – राज्य सरकार ऊंटों के संरक्षण की दिशा में निरंतर कार्य कर रही है। इसी क्रम में मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने ऊंट संरक्षण योजना का अनुमोदन किया है। इसके लिए उन्होंने 2.60 करोड़ रूपए का वित्तीय प्रावधान को भी स्वीकृति दी है।

  • मादा ऊंट एवं बच्चे की पहचान पर मिलेंगे प्रथम किश्त के रूप में 5000 रूपए
  • बच्चे के एक वर्ष पूर्ण होने पर मिलेगी 5000 रुपए की द्वितीय किश्त

योजना में पशु चिकित्सक द्वारा मादा ऊंट एवं बच्चे के टैग लगाकर पहचान पत्र देने के बाद ऊंट पालक को 5 हजार रुपए, प्रत्येक पहचान पत्र के लिए पशु चिकित्सक को 50 रुपए का मानदेय तथा ऊंट के बच्चे के एक वर्ष पूर्ण होने पर द्वितीय किश्त के रूप में 5 हजार रुपए का प्रावधान किया गया है। दोनों किश्तों की राशि ऊंट पालक के बैंक खाते में डाली जाएगी। श्री गहलोत के इस निर्णय से ऊंट पालकों को आर्थिक संबल के साथ प्रोत्साहन मिल सकेगा।

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2022-23 के बजट में ऊंट संरक्षण एवं विकास नीति लागू करने के लिए 10 करोड़ रूपए का प्रावधान किया गया था।

महत्वपूर्ण खबर: राजस्थान में शक्तिमान रोटावेटर सर्विस की घर पहुँच सुविधा प्रारंभ

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *