इन्दौख बैराज परियोजना से किसानों के खेतों में सिचाई होगी : मुख्यमंत्री

Share

21 सितंबर 2020, उज्जैन। इन्दौख बैराज परियोजना से किसानों के खेतों में सिचाई होगी : मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि महिदपुर तहसील के ग्राम इन्दौख में छोटी काली सिंध नदी पर 79.03 करोड़ की लागत से बन रही इन्दौख बैराज परियोजना से किसानों के खेतों में सिंचाई के साथ-साथ पेयजल भी उपलब्ध हो सकेगा। बैराज परियोजना से 6100 हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई की जा सकेगी। साथ ही महिदपुर एवं बड़ौद तहसील के 23 ग्रामों के किसानों को सिंचाई के लिये पर्याप्त पानी मिलेगा। इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने शिप्रा नदी पर सिपावरा-सगवाली मार्ग पर उच्च स्तरीय पुल निर्माण का लोकार्पण तथा महिदपुर से नागेश्वर रोड एवं झारड़ा से गोगाखेड़ा सड़क निर्माण कार्य का शिलान्यास किया और इन्दौख बैराज परियोजना का अवलोकन भी किया।

महत्वपूर्ण खबर : किसानों को 25 रूपए बीमा राशि मिलने के बाद जागी सरकार

इन्दौख बैराज परियोजना का विवरण

उज्जैन जिले की महिदपुर तहसील के ग्राम इन्दौख में जल संसाधन विभाग द्वारा छोटी काली सिंध नदी पर बनाये गये इन्दौख बैराज परियोजना की लागत 79.03 करोड़ रुपये है। बैराज परियोजना के निर्माण से 6100 हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई की जा सकेगी। योजना से महिदपुर एवं बड़ौद तहसील के 23 गांवों के किसान सिंचाई कर सकेंगे। बैराज में जलभराव 28.278 मीलियन घन मीटर होकर लगभग 25 किलोमीटर तक छोटी कालीसिंध नदी में पानी रहना संभावित है। इस परियोजना से पांच मिलीयन घनमीटर पेयजल हेतु आरक्षित रहेगा। इन्दौख बैराज की लम्बाई 320 मीटर और ऊंचाई 15.40 मीटर तथा इसमें नौ गेट 12 गुणा 8.50 मीटर के है। बैराज से महिदपुर तहसील के ग्राम इन्दौख, बनसिंग, पाताखेड़ी, कछालिया सैयद, नाहरखेड़ा, लाड़नपुर, बोलखेड़ानाऊ, खराड़िया मानपुर, लालगढ़, झरन्याखेड़ा, कंथारी, घट्टियाजस्सा, लसुड़िया नाहटा, सामाकोटा और बड़ौद तहसील के लाभान्वित ग्रामों में नरेला, बरोठीखुर्द, असिंध्या, पिपल्यामाना, गरड़ा, झांगरी, अलसिया, लालाखेड़ी एवं सुनारिया है।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.