झाबुआ जिले में उर्वरकों की पर्याप्त भण्डारण व्यवस्था

Share

19 अगस्त 2022, झाबुआ: झाबुआ जिले में उर्वरकों की पर्याप्त भण्डारण व्यवस्था – जिले में  यूरिया खाद की आपूर्ति मांग अनुसार लगातार कार्रवाई की  जा रही है। जिला कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा के निर्देश पर कृषि विभाग के जिला स्तरीय दल एवं मैदानी अमले द्वारा उर्वरकों  के वितरण की लगातार निगरानी की जा रही है।

उप संचालक कृषि नगीनसिंह रावत ने बताया कि कृषि विभाग के मैदानी अमले की ड्यूटी आदान वितरण केंद्रों  पर लगाई गई है, जिले में विपणन संघ पेटलावद, जिले की सहकारी समितियो एवं निजी विक्रेताओ के पास उर्वरक पर्याप्त उपलब्ध है। जिले में वर्तमान में  कुल यूरिया 4185, डी.ए.पी. 2050, पोटाश 360, एन.पी.के. 735 एवं एस.एस.पी. 1022 मैट्रिक टन भण्डारित है। विपणन संघ डबल लॉक केन्द्र पेटलावद में  900 मेट्रिक टन यूरिया का स्टॉक है। सहकारी समितियो मे 958 मैट्रिक टन, थोक निजी विक्रेताओं  के गोदाम में  182 , फुटकर निजी विक्रेताओं  के यहां 1190 मैट्रिक टन यूरिया का स्टॉक है।

निर्माता कंपनियों के गोदाम से 700 मेट्रिक टन भण्डारण करवाया जा रहा है। जिले की जिन सहकारी समितियो में  यूरिया की तत्काल आवश्यकता होने पर विपणन संघ पेटलावद के डबल लॉक केन्द्र से डी.डी./आर.ओ. प्रस्तुत कर समितियों में भण्डारण करने के निर्देश महाप्रबंधक जिला केन्द्रीय सहकारी बैंक झाबुआ को दिये गये। जिले में उर्वरकों के सुचारू वितरण हेतु जिला विपणन संघ के डबल लॉक केन्द्र झाबुआ एवं मेघनगर, मार्केटिंग सोसायटी पेटलावद, थांदला से कृषकों  को उनकी भू-अभिलेख पंजी (पावती) एवं आधार कार्ड के आधार पर उर्वरक वितरण व्यवस्था की गई है। जिले में  आगामी सप्ताह में  यूरिया की दो रैक  शीघ्र ही लगने की संभावना है। कृषकों को उनकी आवश्यकता के अनुरूप यूरिया की आपूर्ति की जाएगी।

महत्वपूर्ण खबर: सर्वोत्तम कृषक पुरस्कार हेतु 31 अगस्त तक प्रविष्टियां आमंत्रित

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.