राष्ट्रीय कृषि समाचार (National Agriculture News)

वर्ल्ड फूड इंडिया 2024 होगा 19 सितम्बर से प्रारंभ: जानिए कैसे बदलेगा भारतीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग का भविष्य

Share

29 जून 2024, नई दिल्ली: वर्ल्ड फूड इंडिया 2024 होगा 19 सितम्बर से प्रारंभ: जानिए कैसे बदलेगा भारतीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग का भविष्य – केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री श्री चिराग पासवान और केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग और रेल राज्य मंत्री श्री रवनीत सिंह ने वर्ल्ड फूड इंडिया 2024 के तीसरे संस्करण के पूर्वावलोकन के रूप में वेबसाइट और मोबाइल ऐप लॉन्च किया है। यह कदम खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र में नई तकनीकों और नवाचारों को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से उठाया गया है।

वर्ल्ड फूड इंडिया 2024

श्री चिराग पासवान ने कृषि अपव्यय को कम करने, मूल्यवर्धन को प्रोत्साहित करने, खाद्य सुरक्षा सुनिश्चित करने और खेत से थाली तक आपूर्ति श्रृंखला को मजबूत करने में खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र की महत्वपूर्ण भूमिका पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा, “भारत सरकार ने खाद्य और संबद्ध क्षेत्रों में मूल्य श्रृंखला के समग्र विकास पर बल दिया है और आत्मनिर्भर और विकसित भारत के लक्ष्य की दिशा में काम कर रही है।”

मंत्रालय द्वारा लागू की जा रही प्रमुख योजनाएं:

  • प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना (PMKSY)
  • उत्पादन से जुड़ी प्रोत्साहन योजना (PLIS)
  • सूक्ष्म खाद्य प्रसंस्करण उद्यमों के प्रधानमंत्री औपचारिकरण (PMFME)

वर्ल्ड फूड इंडिया 2024 का आयोजन 19 से 22 सितंबर 2024 तक होगा। यह कार्यक्रम वैश्विक और भारतीय खाद्य क्षेत्र के हितधारकों के बीच सहयोग और साझेदारी को बढ़ावा देने के लिए देश का सबसे बड़ा खाद्य कार्यक्रम होगा। इस साल, स्टार्टअप इंडिया के सहयोग से स्टार्टअप ग्रैंड चैलेंज का दूसरा संस्करण भी शुरू किया जा रहा है, जो नवाचार को बढ़ावा देगा।

वर्ष 2023 की सफलता और भविष्य की योजनाएं

वर्ष 2023 का वर्ल्ड फूड इंडिया आयोजन 1,208 प्रदर्शनी, 90 देशों के 715 खरीदारों, 24 राज्यों और 75,000 प्रतिभागियों के साथ एक शानदार सफलता थी। इस आयोजन में 16,000 से अधिक बी2बी/बी2जी बैठकें, गोलमेज चर्चाएं, 47 विषयगत सत्र, समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर और स्टार्टअप ग्रैंड चैलेंज का आयोजन हुआ।

राज्य मंत्री श्री रवनीत सिंह ने कहा, “खाद्य प्रसंस्करण प्रौद्योगिकियों में प्रगति कृषि संपत्ति को एक मजबूत आर्थिक शक्ति में बदल सकती है। सरकार निवेश को बढ़ावा देने और भारत के व्यापक बाजार और गतिशील युवा कार्यबल का लाभ उठाने के लिए सक्रिय रूप से काम कर रही है।”

मंत्रालय की दृष्टि और आगामी आयोजन की संभावनाएं

यह आयोजन खाद्य उद्योग के सभी पक्षों से जुड़े हितधारकों को एक साथ लाएगा, जिसमें निर्माता, उत्पादक, निवेशक, नीति निर्माता और वैश्विक संगठन शामिल होंगे। वे विचारों का आदान-प्रदान करने, अवसरों का पता लगाने और क्षेत्र के समग्र विकास में योगदान करने के लिए तैयार हैं। खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय की सचिव श्रीमती अनीता प्रवीण ने पिछले संस्करण में शानदार भागीदारी के लिए आभार व्यक्त किया और वर्ल्ड फूड इंडिया 2024 के चार दिवसीय कार्यक्रम के लिए वैश्विक निवेशकों, बिजनेस नेताओं, खाद्य प्रसंस्करणकर्ताओं, उपकरण निर्माताओं, लॉजिस्टिक्स और कोल्ड चेन के हितधारकों, आदि  को आमंत्रित किया।

(कृषक जगत अखबार की सदस्यता लेने के लिए यहां क्लिक करें – घर बैठे विस्तृत कृषि पद्धतियों और नई तकनीक के बारे में पढ़ें)

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्रामव्हाट्सएप्प)

कृषक जगत ई-पेपर पढ़ने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें:

www.krishakjagat.org/kj_epaper/

कृषक जगत की अंग्रेजी वेबसाइट पर जाने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें:

www.en.krishakjagat.org

Share
Advertisements