देश में प्याज बीज की कमी, सरकार ने मानी

Share

भारत विश्व में फल-सब्जी उत्पादन में दूसरे स्थान पर

(नई दिल्ली से निमिष गंगराड़े)

7 दिसम्बर 2021, देश में प्याज बीज की कमी, सरकार ने मानी – भारी वर्षा के कारण प्रमुख प्याज उत्पादक राज्य महाराष्ट्र में प्याज बीज की फसल प्रभावित हुई, जिसके कारण देश में प्याज बीज की कमी हो गई। महाराष्ट्र सरकार द्वारा प्याज बीज के निर्यात को रोकने के अनुरोध पर विदेश व्यापार महानिदेशालय (डीजीएफटी) ने अक्टूबर 2020 में प्याज बीज के निर्यात पर रोक लगा दी है। ये जानकारी केन्द्रीय कृषि मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने लोकसभा में दी। एक अन्य प्रश्न के उत्तर में श्री तोमर ने कहा कि प्याज निर्यात पर स्थायी प्रतिबंध लगाने का कोई प्रस्ताव नहीं है।

प्याज भंडार गृहों के लिए सहायता

श्री तोमर ने बताया कि कृषि मंत्रालय के समेकित बागवानी विकास मिशन (एमआईडीएच) के माध्यम से कम लागत वाले प्याज भंडार गृहों के निर्माण के लिए सहायता दी जाती है। इस योजना में 25 टन क्षमता वाले भंडार गृहों के लिए अधिकतम 1.75 लाख रुपए तक की सहायता दी जाती है।

संयुक्त राष्ट्र के खाद्य और कृषि संगठन (एफएओ) की रिपोर्ट के अनुसार, वर्ष 2019 में भारत दुनिया में फलों के साथ-साथ सब्जियों का दूसरा सबसे बड़ा उत्पादक है। ये जानकारी केन्द्रीय कृषि मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने लोकसभा में दी।

देश में फलों और सब्जियों के उत्पादन की मात्रा गत तीन वर्षों में इस प्रकार है :-

देश में आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, गुजरात, कर्नाटक और तमिलनाडु प्रमुख फल उत्पादक राज्य हैं, जबकि उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, मध्यप्रदेश, बिहार, गुजरात, महाराष्ट्र और ओडिशा प्रमुख सब्जियाँ उत्पादक राज्य हैं।

देश में प्याज उत्पादन :
(लाख टन में)
2020-21  268.3
2019-20  260.91
2018-19  228.19
2017-18  232.62
Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *