देश में खरीफ बुवाई गत वर्ष के मुकाबले 41 लाख हेक्टेयर पीछे

Share

9 जुलाई 2022, नई दिल्ली: देश में खरीफ बुवाई गत वर्ष के मुकाबले 41 लाख हेक्टेयर पीछे – देश में खरीफ फसलों की बुवाई धीमी गति से चल रही है। अब तक 406 लाख 66 हजार हेक्टेयर में बोनी हो गई है, जबकि गत वर्ष इस अवधि में 448 लाख 23 हजार हेक्टेयर में बोनी हो गई थी। इस प्रकार गत वर्ष की तुलना में लगभग 41 लाख हेक्टेयर बुवाई पिछड़ी है। हालांकि दलहन, मोटे अनाज एवं कपास की बोनी अधिक क्षेत्र में हुई परंतु अन्य फसलों के रकबे में कमी आई है। प्रमुख खरीफ फसल धान की बोनी भी कम क्षेत्र में हुई है। अब तक लगभग 72 लाख 24 हजार हेक्टेयर में धान बोई गई है, जबकि गत वर्ष समान अवधि में 95 लाख हेक्टेयर में बोनी हुई थी।

मूंग की बुवाई आगे

कृषि मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार  दलहन का रकबा बढ़कर अभी तक 46.55 लाख हेक्टेयर हो गया है, जो  समान अवधि में 46.10 लाख हेक्टेयर था, इसमें अरहर की बुवाई 16.58 लाख हेक्टेयर में हुई है, जबकि गत वर्ष इसी अवधि में 23.22 लाख हेक्टेयर में बोनी हुई थी। उड़द की बुवाई अब तक 7.47 लाख हेक्टेयर में की गई है। वहीं मूंग की बुवाई 16.02 लाख हेक्टेयर हुई है जो गत वर्ष अब तक 11.65 लाख हेक्टेयर में हो गई थी।

तिलहन

तिलहन का कुल रकबा 77.80 लाख हेक्टेयर हो गया है जो गत वर्ष अब तक 97.56 लाख हेक्टेयर  था। देश के मध्य क्षेत्र के किसानों की दशा-दिशा बदलने वाली सोयाबीन अभी भी किसानों की पहली पसंद बनी हुई है सोयाबीन की बुवाई अब तक गत वर्ष के 69.54 लाख हेक्टेयर के मुकाबले 54.43 लाख हेक्टेयर में बोई गई है इसी प्रकार मूंगफली की बुवाई 25.31 लाख हेक्टेयर के मुकाबले 20.51 लाख हेक्टेयर में की गई है, सूरजमुखी की बुवाई 1.16 लाख हेक्टेयर में हुई है।

मोटे अनाज की बुवाई में तेजी

गत वर्ष की तुलना में इस वर्ष अब तक मोटे अनाज की बुवाई में तेजी आई है अब तक मोटे अनाज की बोनी 65.31 लाख हेक्टेयर में हुई है, जबकि गत वर्ष इस अवधि 64.36 लाख हेक्टेयर में हुई थी। इसमें मक्का की बुवाई अब तक 31.84 लाख हेक्टेयर में की गई है, जबकि गत वर्ष इस अवधि में 41.63 लाख हेक्टेयर में हुई थी। ज्वार 4.50 लाख हेक्टेयर में बोया गया है, वहीं बाजरा की बोनी 26.77 लाख हेक्टेयर में हो गई है।

देश में गन्ने का रकबा समान अवधि के दौरान 53.56 लाख हेक्टेयर के मुकाबले 53.31 लाख हेक्टेयर हो गया है। जूट और मेस्टा का रकबा 6.86 लाख हेक्टेयर हो गया है वहीं कपास का रकबा 84.60 लाख हेक्टेयर हो गया है, जो गत वर्ष इसी अवधि के दौरान 84.75 लाख हेक्टेयर था।

देश में प्रमुख खरीफ फसलों की बुवाई

इकाई : लाख हे. में  (9 जुलाई 2022 की स्थिति)

फसल बुवाई इस वर्ष बुवाई गत वर्ष
धान72.2495
दलहन46.5546.1
अरहर 16.5823.22
मोटा अनाज65.3164.36
मक्का 31.8441.63
तिलहन77.897.56
मूंगफली20.5125.31
सोयाबीन54.4369.54
गन्ना53.3153.56
कपास84.684.75
कुल406.66448.23
   
देश में खरीफ बुवाई गत वर्ष के मुकाबले 41 लाख हेक्टेयर पीछे

महत्वपूर्ण खबर: घनजीवामृत (सूखी खाद) बनाने की विधि

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.