कम्पनी समाचार (Industry News)

श्रीराम फार्म सॉल्यूशंस ने लॉन्च किए 5 नए कृषि उत्पाद

Share

08 जून 2024, पुष्कर: श्रीराम फार्म सॉल्यूशंस ने लॉन्च किए 5 नए कृषि उत्पाद – डीसीएम श्रीराम  के डिवीज़न  श्रीराम  फार्म सॉल्यूशंस ने अपने पांच नए फसल सुरक्षा और विशेष पौध पोषण उत्पादों का लॉन्च किया। राजस्थान के पुष्कर में आयोजित इस इवेंट में क्षेत्र के प्रमुख चैनल पार्टनर्स ने भाग लिया ।

कंपनी ने अपने कीटनाशक पोर्टफोलियो को मजबूत करने के लिए श्रीराम साईशो (डिनोटेफुरान 70% WG), श्रिराम क्रोन (Tetraniliprole 10.08% w/w + Thiacloprid 30.25% w/w SC), और श्रीराम ट्रेक्स्टर (स्पिनेटोरम 11.7% SC) प्रस्तुत किए। ये कीटनाशक पेटेंटेड हैं और प्रमुख चूसने वाले और चबाने वाले कीटों के खिलाफ बेहतर फसल सुरक्षा प्रदान करते हैं। ये उत्पाद प्रतिरोध के विकास को कम करने के लिए डिज़ाइन किए गए हैं, जिससे स्वस्थ फसलें और उच्च उपज संभव हो सके।

खरपतवार प्रबंधन श्रमिकों से कराने   के कारण बढ़ती लागत से जुड़ी चुनौतियों का समाधान करने के लिए, कंपनी  ने श्रीराम बिकुटा (Pyrithiobac Sodium 6% + Quizalofop Ethyl 4% MEC) लॉन्च किया है, जो कपास की फसलों में चौड़ी पत्ती और संकरी पत्ती दोनों प्रकार की खरपतवारों से लड़ने के लिए एक प्रारंभिक पोस्ट-इमर्जेंट हर्बिसाइड है। यह उत्पाद दो अत्यधिक प्रभावी सक्रिय तत्वों के साथ तैयार किया गया है, जो किसानों के लिए एक किफायती समाधान प्रदान करता है।

विशेष पौध पोषण (SPN) खंड में, श्रीराम फार्म सॉल्यूशंस ने श्रीराम प्रोटोबज़+ को लॉन्च किया है, जिसे संयुक्त राज्य अमेरिका की पेटेंटेड डिलीवरी टेक्नोलॉजी ‘नैनो लिक्विड टेक्नोलॉजी’ का उपयोग करके विकसित किया गया है। श्रीराम प्रोटोबज़+ त्वरित प्रभाव देता है, जो किसानों के लिए बेहतर मुनाफा देता है। इसके शानदार प्रदर्शन के साथ, श्रीराम प्रोटोबज़+ का टैगलाइन है “रॉकेट जैसा काम, रफ्तार का दूसरा नाम।”

श्री संजय छाबड़ा, कार्यकारी निदेशक और व्यवसाय प्रमुख ने कहा, ” श्रीराम फार्म सॉल्यूशंस कृषि नवाचार की सीमाओं को आगे बढ़ाते हैं और  नए उत्पाद लॉन्च कंपनी की उस प्रतिबद्धता के साथ मेल खाते हैं जो किसानों को उन्नत समाधानों के साथ सशक्त बनाता है, जो उनकी बदलती आवश्यकताओं को पूरा करते हैं “

(कृषक जगत अखबार की सदस्यता लेने के लिए यहां क्लिक करें – घर बैठे विस्तृत कृषि पद्धतियों और नई तकनीक के बारे में पढ़ें)

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्रामव्हाट्सएप्प)

Share
Advertisements