राज्य कृषि समाचार (State News)कम्पनी समाचार (Industry News)

इंदौर में एसेन्सियल ऑयल एसोसिएशन की अन्तर्राष्ट्रीय कांग्रेस एवं एक्सपो आयोजित 

Share
  • 26 से 28 मई तक सुगन्ध क्षेत्र से जुड़े विशेषज्ञ होंगे शामिल 

25  मई 2022,  इंदौर: एसेंसियल ऑयल एसोसिएशन ऑफ इण्डिया द्वारा  26 से 28  मई तक इन्दौर में अन्तर्राष्ट्रीय कांग्रेस एवं एक्सपो-2022 का आयोजन किया जा रहा है।  जिसमें देश के प्रमुख अनुसंधान संस्थानों के निदेशक, सुगन्ध क्षेत्र के विशेषज्ञ, परफ्यूमरी उद्योग से जुड़े उद्यमी, निर्माता, किसान एवं टेक्नोक्रेट्स  सहित 800 व्यक्ति शामिल होंगे। मुख्य अतिथि सुगंध उद्योग से जुड़े एकमात्र सांसद इत्र की नगरी कन्नौज के  श्री सुब्रत पाठक होंगे। 

एसेंसियल  ऑयल एसोसिएशन  ऑफ इण्डिया के अध्यक्ष श्री योगेश  दुबे ने  बताया कि 1956 में स्थापित यह देश में सुगन्ध उद्योग के उत्थान हेतु कार्यरत एक बहुत बड़ी संस्था है।  जिसमें  लगभग 1000 से अधिक सदस्य शामिल हैं।  देश में सुगन्ध उद्योग को बढ़ावा देने वाली यह संस्था प्रति दो वर्ष में अन्तर्राष्ट्रीय कांग्रेस एवं एक्सपो आयोजित करती है , जिसमें सुगन्ध क्षेत्र में कार्यरत उद्यमियों और  प्रमुख अनुसंधान संस्थानों को एक मंच पर एकत्रित कर सुगन्ध क्षेत्र से सम्बन्धित नवीनतम तकनीकी जानकारी, उनमें व्याप्त संभावनाओं , समस्याओं व उनके समाधानों पर चर्चा की जाती है।“

संस्था के सचिव श्री प्रदीप जैन ने बताया कि मध्यप्रदेश में सुगन्धित, औषधीय, हर्बल एवं जड़ी बूटी उद्योग हेतु व्यापक पैमाने पर संभावनाएं उपलब्ध हैं तथा  प्रदेश के मुख्यमंत्री भी हर्बल एवं प्राकृतिक उद्योग को बढ़ावा देने पर विशेष जोर दे रहे हैं, जिससे मध्य प्रदेश के उद्यमियों के लिए इस उद्योग में अपार संभावनाएं  हैं।  मध्यप्रदेश के हर्बल, फार्मास्यूटिकल्स्, कन्फेक्शनरी एवं खाद्य सामग्री उद्योग को नई दिशा मिलेगी।श्री अतुल मित्तल, ने कार्यक्रम की रूपरेखा बताते हुए कहा कि देश के  सुगंध उद्योग की दिशा को सुधारने हेतु रोडमैप तैयार किया जायेगा। आयोजक  श्री सुनील गोयल ने कहा कि कोरोना काल के बाद एसोसिएशन का यह पहला कार्यक्रम है जिसके लिए देश के सबसे साफ सुथरे इन्दौर को चुना गया है।

महत्वपूर्ण खबर: 31 मई को पीएम किसान योजना की राशि किसानों के खाते में

सुगन्ध एवं सुरस विकास केन्द्र, कन्नौज के निदेशक एवं तकनीकी सत्र के अध्यक्ष श्री शक्ति विनय शुक्ल ने  इस आयोजन का उद्देश्य  स्पष्ट करते हुए बताया कि सुगन्ध क्षेत्र से सम्बन्धित नवीनतम तकनीकी सुगन्ध क्षेत्र के परिदृश्य , परिवर्तन तथा उपलब्ध संभावनाओं तथा उद्यमियों को आने वाली समस्याओं के समाधान  पर चर्चा एवं युवा वैज्ञानिकों हेतु पोस्टर प्रेजेंटेशन जाएगा जिसमें सर्वश्रेष्ठ प्रेजेंटेशन को पुरस्कृत कर युवा वैज्ञानिकों को  नवीनतम तकनीकी की खोज हेतु प्रेरित किया जाएगा। श्री अनिल कात्याल ने कार्यक्रम की प्रशंसा करते हुए ऐसे  आयोजन को आवश्यक बताया। श्री राजा वार्ष्णेय ने कार्यक्रम में देश विदेश से आये समस्त वैज्ञानिकों, विषेषज्ञों तथा उद्यमियों का स्वागत किया 

इस कार्यक्रम में देश को सुगंध उद्योग के क्षेत्र में कार्यरत प्रमुख अनुसंधान संस्थान सुगंध एवं सुरस विकास केन्द्र कन्नौज, केन्द्रीय औषधीय सगंध पौधा संस्थान लखनऊ, राष्ट्रीय वानस्पतिक अनुसंधान संस्थान लखनऊ, उत्तर-पूर्व विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी संस्थान, असम, हिमालय जैवसंपदा प्रौद्योगिकी संस्थान पालमपुर के अलावा अन्य सीएसआईआर संस्थान, आईसीएआर, एमएसएमई, राज्य सरकार, केंद्र सरकार के संस्थानों के निदेशक सहित कुल 21 विशेषज्ञ उपस्थित रहेंगे जो कि सुगंध क्षेत्र के परिदृश्य, परिवर्तन तथा उपलब्ध संभावनाओं पर चर्चा करेंगे।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *