उत्पादन में आगे, उत्पादकता में पीछे…

सुनील गंगराड़े 12 जुलाई 2022, भोपाल । उत्पादन में आगे, उत्पादकता में पीछे… – भारत की दो तिहाई आबादी खेती और खेती से जुड़े कार्यों में जुटी होने के कारण इस देश की अर्थव्यवस्था की प्रमुख धुरी है कृषि। देश

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें

पानी और पेट्रोल उलीचने से धंसते शहर

डॉ. ओ.पी. जोशी 9 जुलाई 2022, भोपाल । पानी और पेट्रोल उलीचने से धंसते शहर – भूजल के अधिक दोहन के साथ-साथ भूमि धंसने का एक और कारण तेल एवं प्राकृतिक गैस का निकाला जाना भी बताया गया है। कैलिफोर्निया

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें

किस हाल में है गांवों का शासन ?

पंचायती राज 30 साल में कितना मजबूत हुआ लोकतंत्र ? – 2 सी.आर. बिजॉय(अनुवाद: विशाल कुमार जैन ) 7 जुलाई 2022,  किस हाल में है गांवों का शासन ? – भारत में लोकतंत्र की जड़ों को और मजबूत करने के

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
Advertisements

जल संरक्षण और बारानी खेती

6 जुलाई 2022, भोपाल । जल संरक्षण और बारानी खेती – बारानी अर्थात् वर्षा आधारित क्षेत्र जो कि देश में 65-70 प्रतिशत है में जल संरक्षण के महत्व से सभी परिचित हैं। जल संरक्षण के उचित प्रबंधन में कमियों के

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें

30 साल में कितना मजबूत हुआ लोकतंत्र ?

पंचायती राज सी.आर. बिजॉय(अनुवाद: विशाल कुमार जैन ) 4 जुलाई 2022,  30 साल में कितना मजबूत हुआ लोकतंत्र ? – भारत में लोकतंत्र की जड़ों को और मजबूत करने के लिहाज से साल 1992 को मील का पत्थर माना जाता

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें

पृथ्वी पर बायोडायवर्सिटी और इकोसिस्टम की सुरक्षा के लिए संरक्षण की आवश्यकता

संदीपन तालुकदार 4 जुलाई 2022, पृथ्वी पर बायोडायवर्सिटी और इकोसिस्टम की सुरक्षा के लिए संरक्षण की आवश्यकता – यह अध्ययन अत्यंत महत्वपूर्ण है क्योंकि दुनिया भर की सरकारें जैव विविधता संरक्षण के लिए अपने लक्ष्य निर्धारित करना शुरू कर चुकी

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें
Advertisements

कृषि में संतुलित उर्वरक आवश्यक

4 जुलाई 2022, भोपाल । कृषि में संतुलित उर्वरक आवश्यक – रसायनिक उर्वरकों के उपयोग में संतुलन लाना आज की आवश्यकता है। उर्वरकों की बढ़ती कीमतों के चलते ना केवल उनका संतुलित उपयोग महत्वपूर्ण है। बल्कि उन उर्वरकों का भूमि

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें

आजादी के बाद तबीयत से छले गए हमारे गाँव !

जयराम शुक्ल, मो.: 8225812813 1 जुलाई 2022, आजादी के बाद तबीयत से छले गए हमारे गाँव ! – पंचायत सरकार 8 जुलाई तक चुन ली जाएगी। विधायकों और सांसदों ने अपने पट्ठे ग्राम पंचायत से लेकर जिला पंचायत तक उतारे

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें

घरेलू आत्मनिर्भरता ही एकमात्र रास्ता

वैश्विक खाद्य संकट विकास रावल 23 जून 2022, घरेलू आत्मनिर्भरता ही एकमात्र रास्ता – खाद्य संकट रूस-यूक्रेन युद्ध के पहले से चालू है। सरकारों को यह महसूस करना चाहिए कि खाद्य उत्पादन में आत्मनिर्भरता का कोई विकल्प नहीं है, और

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें

कृषि तकनीकी का विस्तार जरूरी

23 जून 2022, कृषि तकनीकी का विस्तार जरूरी – वर्तमान में कृषि को लाभकारी व्यवसाय बनाने के लिये सभी स्तर पर प्रयास चलाये जा रहे हैं। चाहे वो कृषक हो या कृषि विभाग के मैदानी कार्यकर्ता अथवा शासन की नीतियां

आगे पढ़ने के लिए क्लिक करें