सितंबर, 2022 के लिए दक्षिण-पश्चिम मानसून वर्षा का पूर्वानुमान

Share

02 सितम्बर 2022, इंदौर: सितंबर, 2022 के लिए दक्षिण-पश्चिम मानसून वर्षा का पूर्वानुमान – भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी ), नई दिल्ली द्वारा सितंबर, 2022 के लिए दक्षिण-पश्चिम मानसून वर्षा का पूर्वानुमान जारी किया है।  उक्त जानकारी एक प्रेस विज्ञप्ति में दी गई , जिसमें  भारत के अधिकांश हिस्सों में सामान्य या सामान्य से अधिक वर्षा की संभावना  व्यक्त की गई है।

क) वर्षा – भारत के अधिकांश हिस्सों में सामान्य या सामान्य से अधिक वर्षा की संभावना है केवल पूर्वोत्तर भारत के कई हिस्सों और पूर्व तथा उत्तर पश्चिम भारत के कुछ हिस्सों को छोड़कर जहां सामान्य से कम वर्षा होने की संभावना है । पूरे देश में सितंबर 2022 के लिए मासिक वर्षा सामान्य से अधिक (दीर्घ अवधि के औसत (एलपीए) का >109%) होने की संभावना है ।

ख) तापमान – देश के अधिकांश हिस्सों में अधिकतम तापमान सामान्य या सामान्य से कम रहने की संभावना है केवल पूर्व और उत्तर पूर्व भारत के कई भागों, मध्य भारत और उत्तर पश्चिम भारत के कुछ इलाकों को छोड़कर, जहां अधिकतम तापमान सामान्य से अधिक रहने की संभावना है । देश के अधिकांश हिस्सों में सामान्य या सामान्य से अधिक न्यूनतम तापमान रहने की संभावना है केवल उत्तर पश्चिम भारत के कुछ हिस्सों और प्रायद्वीपीय भारत के दक्षिण-पूर्वी हिस्सों को छोड़कर, जहां न्यूनतम तापमान सामान्य से कम रहने की संभावना है ।

महत्वपूर्ण खबर: लहसुन, प्याज के किसानों की मांग लेकर कृषि मंत्री पटेल दिल्ली में

ग) एसएसटी – वर्तमान में, भूमध्यरेखीय प्रशांत क्षेत्र में ला नीना की स्थिति प्रचलित है । नवीनतम एमएमसीएफएस  पूर्वानुमान इंगित करता है कि ला नीना की स्थिति वर्ष के अंत तक जारी रहने की संभावना है । अन्य जलवायु मॉडल भी आगामी सीज़न के दौरान ला नीना की स्थिति के जारी रहने का संकेत दे रहे हैं । वर्तमान में हिंद महासागर में नकारात्मक आईओडी स्थितियां विकसित हो रही हैं और नवीनतम एमएमसीएफएस/  पूर्वानुमान से संकेत मिलता है कि आगामी महीनों के दौरान नकारात्मक आईओडी की स्थिति मजबूत होने की संभावना है ।आईएमडी मानसून के बाद {अक्टूबर-दिसंबर (ओएनडी)} सीजन 2022 और अक्टूबर 2022 के लिए वर्षा का पूर्वानुमान सितंबर 2022 के अंत में या अक्टूबर , 2022 के आरंभ में जारी करेगा ।

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्राम )

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.