मृदा स्वास्थ्य शिविर का आयोजन

Share

( शैलेष ठाकुर, देपालपुर ) :  

23 मई 2022, भोपाल । मृदा स्वास्थ्य शिविर का आयोजन– कृषि विज्ञान केंद्र कस्तूरबा ग्राम इंदौर द्वारा ग्राम बिरगोदा में गत दिनों  मृदा स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया । इस दौरान कुछ किसानों के खेत से मिट्टी के नमूने भी एकत्र किए गए, जिनके मृदा स्वास्थ्य कार्ड बनाए जाएंगे। कृषि वैज्ञानिकों ने मिट्टी के महत्व को बताते हुए ज़रूरत के अनुसार खाद डालने की सलाह दी।

 डॉ नितिन पचलानिया ने कहा कि धरती को हमने मां का दर्जा दिया गया है, जहाँ से हमें  पोषण मिलता है । मिट्टी के स्वास्थ्य का हम ध्यान नहीं रखेंगे तो आने वाले समय में मिट्टी बहुत कठोर व खराब हो जाएगी। कई देशों में किसान को फर्टिलाइजर लाने के लिए उनका मृदा स्वास्थ्य कार्ड ले जाना पड़ता है, उस हिसाब से उन्हें फर्टिलाइजर दिया जाता है।वही फसल बोई जाती है, जिसकी ज्यादा मांग होती  है। भोजन ही दवाई है ,संतुलित आहार स्वस्थ जीवन का आधार ,ऐसा ही मिट्टी में भी हमें संतुलित मात्रा में खाद, पोषक तत्व देना चाहिए। अधिक मात्रा में हम खाद डालने से कोई फायदा नहीं होता । जो तत्व की कमी है, वही उतना डालेंगे तो सही रहेगा । इस दौरान  खेत से मिट्टी का नमूना एकत्रित करने की विधि भी बताई।  डॉ. आर . एस टेलर व डॉ अपर्णा बाजपेयी ने फार्मर प्रोड्यूसर ऑर्गेनाइजेशन क्या होती है, इसको बनाने के बाद किसान इसका संचालन की विधि के साथ ही इससे होने वाले लाभों के बारे में भी बताया गया।

महत्वपूर्ण खबर: म.प्र. में कृषि यंत्रों पर अनुदान शीघ्र

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.