राज्य कृषि समाचार (State News)

कटनी में अब खनन क्षेत्र में उन्नत ड्रोन प्रशिक्षण दिलाने की तैयारी

Share

25 जून 2024, कटनी: कटनी में अब खनन क्षेत्र में उन्नत ड्रोन प्रशिक्षण दिलाने की तैयारी – कटनी जिले में ड्रोन टेक्नोलॉजी के प्रोजेक्ट पंख के तहत जिले के 485 युवाओं को ड्रोन का प्रशिक्षण दिया जा चुका है। जिले में  प्रोजेक्ट पंख के समापन के बाद अब जल्दी ही जिला प्रशासन कटनी जिले में  ड्रोन के माध्यम से खदानों की एरियल मैपिंग और सर्वे, सीमांकन व डेटा प्रोसेसिंग के क्षेत्र मे ड्रोन तकनीक के प्रयोग के लिए दक्ष मानव संसाधन तैयार करने की दिशा में जुट गया है। कलेक्टर श्री अवि प्रसाद स्वयं कटनी के युवाओं को माईनिंग सेक्टर  में  प्रशिक्षण दिलाकर उनके रोजगार नियोजन के लिए कार्ययोजना के प्रारूप, प्रक्रिया के निर्धारण कार्य  में विशेष रुचि ले रहे हैं। बता दें कि जिला खनिज प्रतिष्ठान के न्यास मंडल की बीते दिनों संपन्न हुई बैठक  में कटनी के युवाओं के भविष्य के नजरिये से और जिले  में माइनिंग सेक्टर की बहुलता को देखते हुए इस क्षेत्र  में  व्यापक संभावनाओं के मद्देनजर युवाओं को माइनिंग सेक्टर मे ड्रोन प्रशिक्षण के लिए जल्दी ही नया प्रोजेक्ट शुरू करने का निर्णय लिया गया था ।

उल्लेखनीय है कि प्रोजेक्ट पंख के तहत प्रशिक्षित ज़िले के युवाओं के हुनर को देख कर देश की बड़ी ड्रोन कंपनियाँ जैसे ड्रोन डेस्टिनेशन, दक्ष एरोस्पेस, एवीओसियन, मल्टीप्लेक्स ड्रोन सर्विसेस, प्रखर एविएशन, इंटेलीपैड, इन्ड्रोन्स जैसी मल्टीनेशनल कंपनियों द्वारा अब तक 82 प्रशिक्षणार्थियों को जॉब ऑफर किया जा चुका है। इसके साथ ही आंध्रप्रदेश की कंपनी इंटीग्रेटेड फैसिलिटी सर्विसेस द्वारा लगभग 30 प्रशिक्षणार्थियों को नौकरी प्रदान करने हेतु इंटरव्यू का आयोजन किया जा रहा है। प्रोजेक्ट पंख से ड्रोन प्रशिक्षण प्राप्त करने उपरांत एक छात्रा चयन भारत सरकार की स्वायत्त सहकारी संस्था इफ़को में महिला उद्यमी के तौर पर हुआ है। इसके अतिरिक्त इफको द्वारा 03 प्रशिक्षणार्थियों को एग्रीकल्चर स्प्रे ड्रोन इंटरप्रेन्योर के रूप में चयनित करने की प्रक्रिया चल रही है।

अब खास कटनी जिले के युवाओं के लिए ही माइनिंग सेक्टर  में  ड्रोन प्रशिक्षण के इस प्रोजेक्ट पर करीब एक करोड़ रूपये का खर्च अनुमानित है। पिछले सत्र  में  आयोजित ड्रोन प्रशिक्षण के तर्ज पर ही माइनिंग सेक्टर के लिए इस ड्रोन प्रशिक्षण मे युवाओं को ड्रोन से मेंपिंग और जी.आई.एस, डाटा प्रोसेसिंग का प्रशिक्षण दिया जायेगा। ताकि यहां से प्रशिक्षण प्राप्त कटनी का युवा माइनिंग सेक्टर  में  ड्रोन विशेषज्ञ के रूप  में कार्य कर आजीविका अर्जित कर सके। शासकीय पॉलिटेक्निक कॉलेज मे चल रहे प्रोजेक्ट पंख के ड्रोन प्रशिक्षण कार्यक्रम को और व्यापक स्वरूप देकर खनन के क्षेत्र  में  ड्रोन प्रशिक्षण के माध्यम से युवाओं की स्किल्स को और बेहतर किया जायेगा। यह अपनी तरह का पहला और अनूठा ट्रेनिंग प्रोग्राम होगा। जहां ड्रोन तकनीक से खनन क्षेत्र का सीमांकन, एरियल मेंपिंग, अर्बन प्लानिंग से संबंधित ड्रोन प्रशिक्षण दिया जायेगा।   प्रशिक्षण कोर्स पूरा करने पर प्रशिक्षणार्थी को रिमोट पायलट सर्टिफिकेट दिया जायेगा। जो डी.जी.सी.ए. द्वारा जारी किया जायेगा। यह सर्टिफिकेट कानूनन ड्रोन ऑपरेट करने का अधिकार प्रदान करेगा। सर्टिफिकेट पाने वाले प्रशिक्षणार्थी सर्टिफाईड ड्रोन पायलट के रूप में अपना करियर बना सकेंगे।

(कृषक जगत अखबार की सदस्यता लेने के लिए यहां क्लिक करें – घर बैठे विस्तृत कृषि पद्धतियों और नई तकनीक के बारे में पढ़ें)

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्रामव्हाट्सएप्प)

कृषक जगत ई-पेपर पढ़ने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें:

www.krishakjagat.org/kj_epaper/

कृषक जगत की अंग्रेजी वेबसाइट पर जाने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें:

www.en.krishakjagat.org

Share
Advertisements