कीटनाशकों के प्रयोग में रखी जाने वाली सावधानियां

Share

20 जुलाई 2022, इंदौर । कीटनाशकों के प्रयोग में रखी जाने वाली सावधानियां – कीटों पर नियंत्रण के लिए फसलों पर कीटनाशकों का छिडक़ाव किया जाता है, ताकि फसल सुरक्षित रहे और अधिक उत्पादन हो। लेकिन प्राय: कीटनाशकों के प्रयोग में रखी जाने वाली सावधानियों पर ध्यान नहीं रखा जाता है, जो कि बहुत जरूरी है। आइये जानते हैं यह सावधानियां कौनसी हैं –

  • किसानों को चाहिए कि कीटनाशक खरीदने से पहले उचित सलाह लें, इसके बाद ही उचित कीटनाशक खरीदें। कीटनाशक हमेशा अधिकृत दुकानदार से ही खरीदें और कीटनाशक खरीदने के बाद दुकानदार से पक्का बिल लें।
  • ध्यान रखें कि कीटनाशकों की ढुलाई कभी भी खाने -पीने की चीजों, फलों एवं तरकारियों के साथ न करें। साथ ही कीटनाशकों को हमेशा किसी ऐसी जगह पर ताला बंद कर रखें जहाँ बच्चों और पशुओं की पहुंच न हो।
  • कीटनाशक के साथ दिए जाने वाले पत्रक में कीटनाशक के प्रयोग और मात्रा की जानकारी दी जाती है, जिसे ध्यानपूर्वक पढ़ें। इससे कीटनाशक के खतरों से बचा जा सकता है।
  • कीटनाशक का कभी भी खाली हाथों से मिश्रण न मिलाएं। इसके लिए छड़ी का इस्तेमाल करें। अगर नोजल बंद हो गया है तो मुंह से फूंक न मारें। मिश्रण बनाते और छिडक़ाव करते समय सही निजी सुरक्षा उपकरण धारण करें।
  • कीटनाशकों के छिडक़ाव करते समय न तो कुछ खाएं और न ही धूम्रपान करें। कीटनाशकों का इस्तेमाल प्रात: या शाम के समय करें। जब हवा चल रही हो तो छिडक़ाव न करें।
  • कीटनाशक के उपयोग के तुरंत बाद तीन बार डिब्बे को धोएं। पहले डिब्बे को पानी से एक चौथाई भरें। डिब्बे को बंद करें और 30 सेकण्ड तक हिलाएं। फिर डिब्बे के बचे घोल को स्प्रे टैंक में उलट दें। इसे 30 सेकंड या अधिक समय तक थामे रखें। खाली डिब्बे को पानी में या खेत में या पशुओं के आसपास न फेंके। डिब्बे का इस्तेमाल कभी भी खाद्य पदार्थ रखने या पानी रखने के लिए न करें। डिब्बे को तोड़ दें, ताकि दुबारा इसका इस्तेमाल न हो सके।
  • कीटनाशकों का छिडक़ाव करने के बाद निजी सुरक्षा उपकरण और अपने कपड़ों को धोएं और नहाएं।

महत्वपूर्ण खबर: गौठान बनने से राज्य में डेढ़ लाख हेक्टेयर शासकीय भूमि हुई सुरक्षित

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.