फसलों में पोषक तत्व प्रबंधन जरूरी : श्री चौहान

Share

खरीफ फसलें 4 लाख 17 हजार हेक्टेयर में

12 जुलाई 2022, खरगोन । फसलों में पोषक तत्व प्रबंधन जरूरी – जमीन में पोषक तत्वों की पूर्ति जानकर उन्हीं तत्वों को जमीन में डालना लाभदायक रहेगा। फसल उत्पादन में बोरान, गंधक, मैंगनीज, जस्ता, मैग्नीशियम, फास्फोरस, कैल्शियम, लोहा, तांबा, मालिब्डेनस, पोटेशियम, नाइट्रोजन आदि तत्वों की जरूरत पड़ती है। सभी तत्वों की पूर्ति उर्वरक प्रबंधन से की जा सकती है यह तत्व खाद के रूप में बाजार या सहकारी समिति में आसानी से उपलब्ध रहते हैं। यह सलाह जिले के उप संचालक कृषि श्री एम. एल. चौहान ने विकासखंड भीकनगांव के ग्राम अंजनगांव में स्थित आदिम जाति सेवा सहकारी संस्था में उपस्थित कृषकों से कही। क्षेत्र में मुख्यत: कपास, सोयाबीन, मक्का, अरहर, ज्वार, मूंग मूंगफली, मिर्ची आदि फसल प्रमुख रूप से लगाई जाती है ।

श्री चौहान ने किसानों से फसलों में यूरिया, डीएपी मिक्स खाद, पोटाश, जिंक सल्फेट आदि उवरकों की आवश्यक मात्रा, उसकी उपयोगिता, उपयोग करने का समय सभी जानकारी लेकर रसायनिक उर्वरकों का उपयोग करने की सलाह दी है। जिससे मिट्टी की उर्वरा शक्ति बनी रहेगी, फसल लागत कम होगी साथ ही पर्यावरण संतुलन, मानव स्वास्थ्य बनाए रखने में सही कदम रहेगा। भ्रमण में भीकनगांव के वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी श्री एस.एल.अटोदे, ग्रा.कृ.वि. अधिकारी श्री रामलाल मोरे एवं बड़ी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित थे।

महत्वपूर्ण खबर:  संकरी पत्ती के खरपतवारों का अचूक समाधान ‘बिल्डर’

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.