नई पीढ़ी खेती से जुड़े : श्री तोमर

Share

पोषक-अनाज महासम्मेलन का शुभारंभ

22 सितम्बर 2021, हैदराबाद। नई पीढ़ी खेती से जुड़े : श्री तोमर – भारतीय कदन्न अनुसंधान संस्थान, हैदराबाद द्वारा खाद्य एवं कृषि संगठन (एफएओ), केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय, कृषि अनुसंधान व शिक्षा विभाग तथा नीति आयोग के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित दो दिवसीय ‘पोषक-अनाज हितधारक महासम्मेलन’ का शुभारंभ केंद्रीय कृषि मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने किया। इसका आयोजन अंतर्राष्ट्रीय पोषक-अनाज वर्ष 2023 के परिप्रेक्ष्य में, प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के उपलक्ष में किया गया है।

महासम्मेलन से देशभर के लगभग सवा सात सौ कृषि विज्ञान केंद्रों (केवीके) में उपस्थित एक लाख किसान व केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालयों एवं राज्य कृषि विश्वविद्यालयों की टीमें व भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के सैकड़ों संस्थानों के वैज्ञानिकगण व कृषि छात्र-छात्राएं बड़ी संख्या में वर्चुअल जुड़े थे। इन सभी स्थानों पर प्रधानमंत्री के जन्मदिन के उपलक्ष में 71 हजार से ज्यादा पौधे रोपे गए। हरेक केवीके में कन्याओं को पोषक-अनाज से बने व्यंजन व किसानों को बीजों का वितरण किया गया।

श्री तोमर ने कहा कि नई पीढ़ी खेती की ओर प्रवृत्त हो, खेतों में सुविधाएं बढ़े, किसानों को अपनी कृषि उपज बेचने के लिए देशभर में खुला बाजार मिलें, कांट्रेक्ट फार्मिंग के माध्यम से वे महंगी फसलों की ओर आकर्षित हो और टेक्नालॉजी से भी जुड़ सकें, ऐसे पावन उद्देश्यों के साथ नए कृषि सुधार कानून लाए गए हैं।

कार्यक्रम में उत्तम-उभरते एफपीओ के लिए हलचलित महिला किसान वुमेन प्रोड्यूसर कंपनी लि. मध्य प्रदेश, उत्तम मिलेट नवोद्यमियों हेतु इन्नरबिइंग वेलनेस प्राइवेट लि. एवं फाउंडेशन हेल्थ फूड्स प्रा.लि., तेलंगाना, उत्तम प्रदर्शन करने वाले राज्य हेतु ओडिशा मिलेट मिशन तथा कदन्नों को प्रोत्साहन प्रदान करने के लिए उत्तम एकीकृत मूल्य श्रृंखला हेतु श्रेस्टा नेचुरल बायोप्रोडक्ट्स प्रा.लि., तेलंगाना को पोषक-अनाज पुरस्कार प्रदान किए गए। श्री तोमर की उपस्थिति में भारतीय कदन्न अनुसंधान संस्थान ने एपीडा, एनआरएलएम, टीसीपीएल, हेरिटेज फूड्स के साथ समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए।

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्य मंत्री सुश्री शोभा करंदलाजे व श्री कैलाश चौधरी, तेलंगाना के कृषि, सहकारिता एवं विपणन मंत्री श्री सिंगीरेड्डी निरंजन रेड्डी इफको के अध्यक्ष डॉ. यू एस अवस्थी, वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान परिषद के महानिदेशक डॉ. शेखर सी. मांडे केंद्रीय कृषि सचिव श्री संजय अग्रवाल, भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के महानिदेशक डॉ. त्रिलोचन महापात्रा, अपर सचिव श्री अभिलक्ष लिखी, कृषि आयुक्त डॉ. एस.के. मलहोत्रा, उप महानिदेशक (फसल विज्ञान) डॉ. तिलक राज शर्मा ने भी विचार व्यक्त किए। भारतीय कदन्न अनुसंधान संस्थान के निदेशक डॉ. विलास ए. टोणपि ने आभार माना।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *