मेज टेक्नोलोजिस्ट एसोसियेशन ऑफ इण्डिया का राष्ट्रीय सम्मेलन सम्पन्न 

Share

26 फरवरी 2022, उदयपुरमेज टेक्नोलोजिस्ट एसोसियेशन ऑफ इण्डिया का राष्ट्रीय सम्मेलन सम्पन्न – भारतीय कृषि अनुसन्धान परिषद् नई दिल्ली, अखिल भारतीय मक्का अनुसन्धान परियोजना लुधियाना, अन्तरराष्ट्रीय मक्का एवं गेहॅूं अनुसन्धान केन्द्र , मेज टेक्नोलोजिस्ट एसोसियेशन ऑफ इण्डिया (एमटीएआई) के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित राष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस का समापन समारोह महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के संघटक राजस्थान कृषि महाविद्यालय, उदयपुर के सभागार में सम्पन्न हुआ ।  समापन समारोह के अवसर पर उपस्थित सी.जी.एम. नाबार्ड एवं जयदीप श्रीवास्तव, एमटीएआई के अध्यक्ष डॉं. सांई दास, सचिव सी.एम. परिहार, कोषाध्यक्ष चिक्पा  जी.के., डॉं. एस.के. शर्मा, निदेशक अनुसन्धान, मप्रकृप्रौविवि, उदयपुर द्वारा वर्तमान व भविष्य में मक्का उत्पादन की आवश्यकता पर विस्तृत चर्चा की गई, जिसमें 100 कृषि वैज्ञानिकों व अनुसन्धानकर्ताओं ने भाग लिया । चर्चा में संसाधन स्थिरता, औद्योगिक विकास और किसानों की समृद्धि के लिए मक्का’’ विषयक विभिन्न अनुसन्धान तकनीकी सत्रों में मुख्यतः मक्का प्रजनन, उत्पादन तकनीकी, संरक्षण एवं जैव प्रौद्योगिकी आदि पर विस्तृत गहनता से चर्चा की गई ।

कार्यक्रम के दौरान सीजीएम नाबार्ड ने बताया कि वेयरहाउसिंग, प्रोसेसिंग उद्योग से नाबार्ड द्वारा उपलब्ध कराई जा रही विभिन्न सुविधाओं की जानकारी देते हुऐ मक्का उत्पादक किसान, विद्यार्थी व उद्यमी लाभ उठा सकते   हैं । चर्चा में जुडे़ मक्का अनुसन्धान वैज्ञानिकों ने मक्का उत्पाद की महत्वता पर प्रकाश डालते हुऐ वर्तमान व भविष्य में उन्नत तकनीकी के साथ मक्का उत्पादन की विपुल सम्भावना व्यक्त की गई । तकनीकी सत्र के दौरान रबी व खरीफ मक्का उत्पादन क्षेत्र बढ़ाने के साथ ही राजस्थान के बॉसवाड़ा क्षेत्र में पॉंपकॉन मक्का उत्पादन वृहत् क्षेत्र में की जा रही खेती पर सन्तोष व्यक्त किया ।   राजस्थान कृषि महाविद्यालय, उदयपुर के अधिष्ठाता एवं मक्का परियोजना प्रभारी डॉं0 दिलीप सिंह ने इस कार्यक्रम के सफल आयोजन पर प्रसन्नता व्यक्त करते सभी सहभागियों का आभार व्यक्त किया ।  कार्यक्रम के अन्त में आयोजन सचिव डॉं0 सी.एम. परिहार ने मक्का अनुसन्धान से जुडे सभी प्रतिभागियों का आभार व्यक्त किया ।

महत्वपूर्ण खबर: बीज किसान की समृद्धि एवं उन्नति का मूल आधार है

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.