बिरगोदा में आग लगने से चार बीघा के गेहूं जलकर खाक

Share
  • (शैलेष ठाकुर , देपालपुर )  

17 मार्च 2022,  बिरगोदा में आग लगने से चार बीघा के गेहूं जलकर खाक  – गर्मी बढ़ने के साथ ही क्षेत्र में आगजनी की घटनाएं  होने लगी है। हाल ही में लगातार दो दिन में आगजनी की दो घटनाएं  पहले रूनजी और फिर  बडोली के जंगल में  हो चुकी है। तीसरी घटना देपालपुर के समीप ग्राम बिरगोदा के किसान श्री फूलसिंह पिता हेमसिंह ठाकोर के गेहूं पक कर तैयार थे, काटने के लिए हार्वेस्टर लाए थे लेकिन अचानक गेहूं में आग लग गई ।आग लगने के कारण का पता नही लग पाया। देपालपुर नगर पालिका से  अग्निशमन गाड़ी को बुलाया गया और गांव के लोगों  के सहयोग से आग पर काबू पाया गया, फिर भी चार बीघा के गेहूं जलकर खाक हो गए।  इसमें श्री फूलसिंह के भाई श्री अंतर सिंह ठाकोर के खेत में  भी कुछ हिस्से  में आग लगी । श्री फूलसिंह ने कहा कि मेरे पूरे सीजन की मेहनत में आग लग गई ।मेरी  जली हुई फसल का उचित मुआवजा  व बीमा राशि मुझे मिले यही मेरी मांग है।गांव के श्री लाखन कोतवाल के साथ राजस्व निरीक्षक श्री नरेश विवलकर ने मौक़ा मुआयना कर पंचनामा बनाया।

 किसानों को सलाह – किसानों को सलाह दी जाती है कि इन दिनों  गेहूं की फसल पूरी पक कर तैयार हो चुकी है। किसान अपने खेतों के पास या खेत में ट्रांसफार्मर लगे हैं,  उनके आस -पास यदि फसल है तो उसे पहले से काट कर सफाई कर दे। खेतों  पर से बिजली के तारों में शॉर्ट सर्किट ना हो ऐसी व्यवस्था करे।ट्रैक्टर चलित स्प्रेयर की टंकी भर कर रखें ,ताकि थोड़ा बहुत आग पर काबू पाया जा सके।विद्युत विभाग खेतों की लाइट सुबह 10 बजे बाद बंद कर दे व रात में दे ,ताकि कही भी बिजली के कारण आग न लगे।

महत्वपूर्ण खबर: किसानों की आवश्यकताओं के अनुरूप कृषि यंत्र विकसित करें: डॉ. चंदेल

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.