प्याज़ लेकर रवाना हुई किसान रेल

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें

26 नवम्बर 2020, इंदौर। प्याज़ लेकर रवाना हुई किसान रेलकल मंगलवार को 180 टन प्याज़ लेकर किसान रेल गुवाहाटी के लिए रवाना हुई l पश्चिम रेलवे की इस पहली किसान रेल को लक्ष्मीबाई नगर स्टेशन से इंदौर के सांसद श्री शंकर ललवानी ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस साप्ताहिक किसान रेल को फरवरी 2021 तक हर मंगलवार को चलाया जाएगा l 20 कोच वाली इस रेल के18 कोच में 180 टन प्याज लादा गया है l शेष 2 कोच में रास्ते के अन्य स्टेशनों से किसानों की फसल लादी जाएगी l यह रेल बैरागढ़ ,बीना ,झाँसी,कानपुर,लखनऊ ,बाराबंकी , हाजीपुर , कटिहार , किशनगंज और न्यू जलपाईगुड़ी जैसे प्रमुख स्टेशनों पर रुकेगी और गुरुवार को गुवाहाटी पहुंच जाएगी।

उल्लेखनीय है कि भारत की पहली ‘किसान रेल’ को केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से हरी झंडी दिखाकर महाराष्ट्र के नासिक जिले में स्थित देवलाली से बिहार के दानापुर के लिए 7अगस्त में रवाना किया था .किसान रेल चलाने का उद्देश्य किसानों की मदद करना है । किसान रेल के माध्यम से किसान अपने कृषि उत्पादों, सब्ज़ी और फल आदि को बड़े शहरों के बाज़ार की मंडियों तक आसानी से भेज सकते हैं lइस किसान रेल से सस्ती दरों पर कृषि उत्पादों, खासतौर से जल्दी खराब होने वाली उपज के परिवहन में मदद मिलेगी,जिससे किसानों को उनकी फसलों का उचित मूल्य दिलाने में सहायक होगी. इससे देश के किसान आत्मनिर्भर व समृद्ध होंगे l बता दें कि भारतीय रेलवे द्वारा कोविड-19 महामारी के चलते देश भर में खाद्य पदार्थों की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए 96 मार्गों पर 4,610 रेलगाड़ियों का संचालन पीपीपी मॉडल के तहत किया जा रहा है l जिसका किराया मालगाड़ी जैसा ही होगा।

महत्वपूर्ण खबर : मध्य प्रदेश की 25 मण्डियों में खुलेंगे पेट्रोल पम्प

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Open chat
1
आपको यह खबर अपने किसान मित्रों के साथ साझा करनी चाहिए। ऊपर दिए गए 'शेयर' बटन पर क्लिक करें।