खरपतवार निदेशालय में पर्यावरण दिवस मनाया

Share

7 जून 2021, जबलपुर।  खरपतवार निदेशालय में पर्यावरण दिवस मनाया   –खरपतवार निदेशालय , जबलपुर द्वारा गत 5 जून को पर्यावरण दिवस मनाया , जिसमें ऑन लाइन वेबिनार का भी आयोजन किया गया l जिसमें  सेवानिवृत्त प्रधान वैज्ञानिक डॉ पी जे खनखने ने इस वर्ष की निर्धारित थीम पर तथा निदेशक डॉ जे एस मिश्रा ने भी अपने विचार व्यक्त किए l  वेबिनार में निदेशालय के  प्रधान वैज्ञानिक डॉ पी के सिंह के अलावा अन्य वैज्ञानिक शामिल हुए।  

डॉ खनखने ने इस वर्ष की थीम ‘ पारिस्थितिकी की तंत्र बहाली के तहत जल प्रदूषण एवं फाइटोरेमीडिएशन के माध्यम से इसके परिशोधन ‘ पर अपने उद्बोधन में जल स्रोतों के पानी की लगातार खरब होती गुणवत्ता पर चिंता व्यक्त कर कहा कि दूषित पानी के उपयोग से करीब 15 लाख लोग डायरिया बीमारी से मर जाते  हैं l  कोमियम,शीशा और कैडमियम की भारी सांद्रता से भी कई बीमारियां हो रही है। आपने मप्र के भू जल में आर्सेनिक की मात्रा अधिक होने से स्वास्थ्य के जोखिम के प्रति चेताया और  स्वयं के शोध निष्कर्षों के आधार पर औद्योगिक और सीवेज जल के परिशोधन के लिए अरुण्डो डोनेक्स और टाइफा पौधों की उपयोगिता पर चर्चा की।

निदेशक डॉ जे एस मिश्रा ने ट्रिपल आर (संसाधनों का नवीनीकरण ,पुनरावृत्ति और उपयोग )के तहत अक्षय संसाधनों की विस्तृत चर्चा कर कहा कि पर्यावरण संतुलन बनाए रखने के लिए वृक्षारोपण पुण्य और परंपरा नहीं , वरन भविष्य की ज़रूरत है। आपने कोरोना महामारी में हुए अनुभव को देखते हुए ऑक्सीजन , पानी और संसाधनों के महत्व को पहचानने की ज़रूरत पर ज़ोर दिया। पर्यावरण दिवस पर आयोजित वेबिनार में निदेशालय के प्रधान वैज्ञानिक डॉ पीके सिंह , अन्य वैज्ञानिक ,तकनीकी ,प्रशासनिक और अन्य स्टाफ सदस्यों के अलावा देश भर के एआई सीआरपी  वीड मैनेजमेंट के वैज्ञानिक ,आईसीएआर संस्थान और एनजीओ शामिल हुए। संचालन प्रधान वैज्ञानिक डॉ शोभा सौंधिया  ने किया।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.