राज्य कृषि समाचार (State News)

प्याज के भाव कम मिलने पर किसान संघ एवं कृषकों के साथ बैठक सम्पन्न

Share

20 मई 2023, खंडवा: प्याज के भाव कम मिलने पर किसान संघ एवं कृषकों के साथ बैठक सम्पन्न – संयुक्त कलेक्टर सुश्री अंशु जावला की अध्यक्षता में गुरूवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में किसान संघ एवं कृषकों की उपस्थिति में वर्तमान में प्याज के भाव कृषकों को कम मिल पा रहे है इस संबंध में बैठक का अयोजन किया गया। बैठक में संयुक्त कलेक्टर सुश्री जावला द्वारा बताया गया कि खण्डवा तहसील में 810 कृषकों का 1220 हेक्टेयर में प्याज की फसल प्रभावित हुई है, जिसका सर्वे किया गया है। अन्य तहसीलों की सर्वे रिपोर्ट आना शेष है। बैठक में किसान संघ के द्वारा प्याज फसल की गिरदावरी कराने हेतु अनुरोध किया गया है। इस पर संयुक्त कलेक्टर द्वारा बताया गया कि 20 मई 2023 तक जायद की गिरदावरी चल रही है, उसमें कृषक पटवारी से संपर्क कर एवं स्वयं से गिदावरी कर सकते हैं । बैठक में प्याज खरीदने वाले व्यापारियों से भी प्याज के भाव को लेकर चर्चा हुई, जिसमें व्यापारियों द्वारा बताया गया कि वर्तमान में जो प्याज मंडी में आ रहा है, वह बैमौसम हुई बारिश से खराब हुआ है। इस कारण से मंडी में भाव कम मिल पा रहा है।

बैठक में कृषि विज्ञान केन्द्र से उद्यानिकी एवं कीट रोग वैज्ञानिक के द्वारा प्याज फसल में लगने वाले कीट एवं रोगों के बारे में किसान संघ एवं कृषकों से चर्चा की गई। कपास अनुसंधान केन्द्र से डॉ. सतीश परसाई के द्वारा कपास की फसल में लगने वाली गुलाबी इल्ली के नियंत्रण के लिए बी.टी. कपास की बुआई 15 जून के बाद एवं अल्प एवं मध्यम अवधि की किस्मों की बुआई की सलाह दी गई। किसान संघ के द्वारा अवगत कराया गया कि मूंग की फसल विक्रय करने हेतु रजिस्ट्रेशन नही हो पा रहा है। इस पर उपसंचालक कृषि द्वारा अवगत कराया गया कि पोर्टल में तकनीकी समस्या होने के कारण नही हो पा रहा है, कुछ समय पश्चात होने लगेगा। उपसंचालक उद्यानिकी श्री राजू बड़वाया द्वारा बताया गया कि नीति आयोग के द्वारा बावडिया काजी, छैगांवदेवी, सुरगांव जोशी, बड़गांव गुर्जर, खरकलां , सिंगोट, बोरगांव जामठी, में प्याज भण्डार गृह बनाया जाना प्रस्तावित है, जिसमें आस-पास के किसान अपनी प्याज का भण्डारण करेंगे, जिससे कृषकों को बाजार भाव अधिक मिलेगा।

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्राम )

Share
Advertisements