खरपतवार अनुसन्धान निदेशालय जबलपुर का 34 वां स्थापना दिवस

Share

तकनीकी विकास के साथ तकनीकी विस्तार भी ज़रूरी – डॉ. पीके विसेन

23 अप्रैल 2022, इंदौर । खरपतवार अनुसन्धान निदेशालय जबलपुर का 34 वां स्थापना दिवस भाकृअनुप – खरपतवार अनुसन्धान निदेशालय , जबलपुर का 34 वां स्थापना दिवस गत दिनों मनाया गया। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉ पीके विसेन ,कुलपति ,जनेकृविवि ,जबलपुर थे। विशिष्ट अतिथि के रूप में डॉ एसके चौधरी , उप महानिदेशक ,प्रासंप्र भाकृअनुप नई दिल्ली ,डॉ सूर्यनारायण भास्कर ,सहायक महानिदेशक (सस्य कृ वा एवं ज प )भाकृअनुप, नई दिल्ली , डॉ समुन्दर सिंह अध्यक्ष अंतर्राष्ट्रीय खरपतवार विज्ञान सोसायटी और डॉ जेएस मिश्र ,निदेशक खरपतवार अनुसन्धान निदेशालय , जबलपुर मौजूद थे।

मुख्य अतिथि डॉ पीके विसेन ने समन्वित खरपतवार प्रबंधन पर ज़ोर दिया और किसानों की वर्तमान समस्याओं पर चर्चा कर वैज्ञानिकों से आह्वान किया कि वे तकनीकी विकास के साथ तकनीकी विस्तार पर भी कार्य करें। उन्होंने किसानों को सहकारी समितियां बनाकर कार्य करने हेतु प्रेरित किया। विशिष्ट अतिथि डॉ एसके चौधरी ने सभी सदस्यों को बधाई दी और निदेशालय के विकास में सदैव प्रयासरत रहने को कहा।    खरपतवार प्रबंधन पर ज़ोर देते हुए आपने  निदेशालय से इस विषय में शोध पर सहयोग की अपेक्षा प्रकट की। डॉ सूर्यनारायण भास्कर ने  निदेशालय में चल रही गतिविधियों और अनुसन्धान कार्यों की प्रशंसा कर बधाई दी। डॉ समुन्दर सिंह ने स्थापना दिवस पर व्याख्यान
 दिया। निदेशक डॉ जेएस मिश्र ने निदेशालय की गतिविधियों और अनुसन्धान कार्यों से अतिथियों को अवगत कराते हुए कहा कि शोध के साथ ही विस्तार कार्यक्रम पर भी ज़ोर दिया जा रहा है।

इस अवसर पर निदेशालय को 25  वर्षों से अधिक की महत्वपूर्ण सेवाएं देने वालों के साथ ही समन्वित खरपतवार प्रबंधन में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले चयनित गांवों के किसानों को भी सम्मानित किया गया। निदेशालय द्वारा प्रकाशित साहित्य का अतिथियों द्वारा विमोचन किया गया। इस आयोजन में वैज्ञानिक , अधिकारी , कर्मचारी , प्रगतिशील कृषक और छात्र उपस्थित थे। संचालन डॉ योगिता घरडे ने किया और आभार प्रदर्शन डॉ पीके सिंह ने माना।  

महत्वपूर्ण खबर: भूमि विकास बैंकों से ऋण लेने वाले किसानों को ब्याज दर में 5 प्रतिशत अनुदान

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.