कृषि यंत्रों से बचेगा श्रम और समय : डॉ. मिश्रा

Share

दतिया। जनसंपर्क, जल-संसाधन तथा संसदीय कार्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने दतिया जिले के ग्राम गरेरा में किसानों को नि:शुल्क कृषि यंत्र वितरित किए। कार्यक्रम भारतीय कृषक अनुसंधान परिषद की संस्था भारतीय चारागाह एवं चारा अनुसंधान केन्द्र, झाँसी द्वारा किया गया। कार्यक्रम में वैज्ञानिक, पाठय पुस्तक निगम के उपाध्यक्ष श्री अवधेश नायक, जिला पंचायत के उपाध्यक्ष श्री विजय यादव तथा अन्य जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।
जनसंपर्क मंत्री डॉ. मिश्रा ने कहा कि कृषि के अलावा दुग्ध उत्पादन से सभी किसानों की आमदनी बढ़े, इसके लिए अच्छे दुधारू पशु और वर्ष भर हरा चारा मिलना जरूरी है। डॉ. मिश्रा ने कहा कि कृषि अनुसंधान केन्द्र की यह योजना भी इसी महत्वपूर्ण उद्देश्य के लिए कार्य कर रही, जो सराहनीय है। संस्थान ने अभी चार गाँव का चयन चारा उत्पादन एवं अनुसंधान के लिए किया है। डॉ. मिश्रा ने बताया कि जल्द ही चालीस अन्य गाँव पंजीकृत किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि कृषि कार्यों में यदि यंत्र का इस्तेमाल हो, तो श्रम और समय की भी बचत होगी। संस्थान के निदेशक डॉ. पी.के. घोष ने कहा कि किसानों के दुधारू पशुओं के लिए अधिक मात्रा में वर्ष भर हरा चारा प्रदान करने का प्रयास है। हरे चारे की 261 प्रजाति हैं। इनमें 35 प्रजाति का विकास संस्थान ने किया है।
कार्यक्रम के दौरान नुनवाहा एवं बगेधरी की कृषि कार्य करने वाली महिलाओं को यंत्र वितरित किए गए। उनमें हस्तचलित में बनाने का उपकरण, हस्तचलित कोनो निदाई यंत्र, हस्तचलित दो पहिया निंदाई यंत्र, नवीन दाँतेदार हँसिया, हस्त चलित मूँगफली फोड़ाई यंत्र, पशु चलित मूंगफली फोड़ाई यंत्र, हस्तचलित अष्ठकोणीय मक्का छिलाई यंत्र, पद एवं शक्ति चलित अनाज सफाई एवं श्रेणीकरण यंत्र मोटर सहित, हस्तचलित पनीर बनाने का साँचा और हस्त चलित द्विछलनी अनाज सफाई यंत्र शामिल है।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.