कच्चे जूट का न्यूनतम समर्थन मूल्य तय

Share

23 मार्च 2022, नई दिल्लीकच्चे जूट का न्यूनतम समर्थन मूल्य तय प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने 2022-23 सीजन के लिए कच्चे जूट के न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य (एमएसपी) को मंजूरी दी। यह मंजूरी कृषि लागत और मूल्य आयोग की सिफारिशों पर आधारित है।  2022-23 सीजन के लिए कच्चे जूट का न्यूनतम समर्थन मूल्य 4750/- रुपये प्रति क्विंटल निर्धारित किया गया है। यह उत्पादन की अखिल भारतीय भारित औसत लागत पर 60.53 प्रतिशत का फायदा सुनिश्चित करेगा।

2022-23 सीजन के लिए कच्चे जूट का घोषित एमएसपी बजट 2018-19 में सरकार द्वारा घोषित उत्पादन की अखिल भारतीय भारित औसत लागत के कम से कम 1.5 गुना के स्तर पर एमएसपी तय करने के सिद्धांत के अनुरूप है। भारतीय जूट निगम (जेसीआई) मूल्य समर्थन को लेकर केंद्र सरकार की नोडल एजेंसी के रूप में अपना काम जारी रखेगा और इस तरह के संचालन में किसी प्रकार का नुकसान होने पर केंद्र सरकार द्वारा पूरी तरह उसकी प्रतिपूर्ति की जाएगी।

महत्वपूर्ण खबर: इफ्सा के बंशी गोल्ड मूंग से पाएं बेहतर पैदावार

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.