कृषि उत्पाद परिवहन सुगम बनाने लांच किया किसान रथ मोबाइल एप

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें

कृषि उत्पाद परिवहन सुगम बनाने लांच किया किसान रथ मोबाइल एप

कोरोना में किसानों को राहत की एक और कड़ी _

पहले दिन ही 5 लाख से ज्यादा वाहन हुए उपलब्ध

नई दिल्ली, 17 अप्रैल । कोरोना वायरस के विश्व व्यापी संक्रमण के दौर में, देश में खेती-किसानी से जुड़े तमाम लोगों को हर संभव मदद और राहत देने के लिए केंद्र सरकार निरंतर काम कर रही है। इसी तारतम्य में केंद्रीय कृषि मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने शुक्रवार को , कृषि उत्पादों के परिवहन में सुगमता के लिए किसान रथ मोबाइल एप लांच किया।

इस अवसर पर श्री तोमर के साथ केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री श्री परषोत्तम रूपाला एवं श्री कैलाश चौधरी तथा मंत्रालय के सचिव श्री सजंय अग्रवाल सहित अन्य संबधित वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।
वीडियो कॉन्फ़्रेन्सिंग के माध्यम से विभिन्न राज्यों में मंडियों से जुड़े अन्य जनप्रतिनिधियों तथा अधिकारियों को संबोधित करते हुए श्री तोमर ने कहा कि आज हम सब कोरोना संकट के दौर से गुज़र रहे हैं और इसलिए जबसे लॉकडाउन की स्थिति हुई है, सामान्य चलने वाला कामकाज प्रभावित हुआ है। कृषि का क्षेत्र हमारे देश के लिए महत्वपूर्ण है, अर्थ व्यवस्था की दृष्टि से भी इस क्षेत्र का बड़ा महत्व है। मौजूदा संकट के दौर में ही, कृषि का काम भी बहुत तेज़ी के साथ करने की आवश्यकता है। इसे देखते हुए, केंद्र सरकार ने कृषि के काम में रूकावट न हो, कामकाज प्रभावित नहीं हो, किसानों को परेशानी नहीं हो, इसलिए अनेक छूटें प्रारंभ से ही इस क्षेत्र के लिए दी है।खेती-किसानी का काम इन दिनों जोरों पर है साथ ही अनेक राज्यों में उपार्जन का काम भी प्रारंभ हो गया है।

सारी रियायतों के बाद भी कृषि उत्पादों के परिवहन में कुछ दिक्कतें थी, क्योंकि लॉकडाउन से पहले परिवहन से जुड़े सभी लोग एक साथ थे, लेकिन यह लागू होने से वे कहीं अलग-अलग चले गए, जिससे परेशानी आई कि अब सबकी उपलब्धता कैसे होगी। इस दृष्टि से कृषि मंत्रालय लगातार प्रयत्न कर रहा था कि इस कठिनाई को कैसे हल किया जाएं और अब कई दिनों की तैयारी के बाद किसान रथ मोबाइल एप लांच किया गया है।
श्री तोमर ने कहा कि यह मोबाइल एप निश्चित रूप से पूरे देश में कृषि उत्पादों के सुचारू परिवहन की दिशा में मील का पत्थर साबित होगा। पहले दिन ही पांच लाख से अधिक वाहन उपलब्ध हैं। श्री तोमर ने कहा कि हमने कंट्रोल रूम भी सेटअप किया है, सभी राज्यों से अनुरोध है कि वे भी अपने यहां किसानों के हित में ऐसा कदम उठाए। इस तरह की पहल की जाए, जिससे राज्यों व केंद्र सरकार का जीवंत संपर्क हो , किसानों की परिवहन की तकलीफ दूर हो।

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

10 − 5 =

Open chat
1
आपको यह खबर अपने किसान मित्रों के साथ साझा करनी चाहिए। ऊपर दिए गए 'शेयर' बटन पर क्लिक करें।