इंदौर जिले के किसानों को 380 करोड़ 54 लाख रुपये की क्षतिपूर्ति बीमा राशि का वितरण

Share

14 फरवरी 2022, इंदौर।  इंदौर जिले के किसानों को 380 करोड़ 54 लाख रुपये की क्षतिपूर्ति बीमा राशि का वितरण मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने 12 फरवरी को एक वर्चुअल कार्यक्रम में सिंगल क्लिक के माध्यम से पूरे मध्यप्रदेश में 49 लाख से अधिक दावों में 7 हजार 600 करोड़ रुपये ट्रांसफर किये। वहीं जल संसाधन मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट ने इस योजना के तहत लाभान्वित इंदौर जिले के किसानों को खाता अंतरण राशि के चेक वितरित किये। जिले में इस योजना के तहत किसानों के एक लाख 86 हजार दावों में 380 करोड़ 54 लाख रुपये की क्षतिपूर्ति बीमा राशि वितरण की गई।

स्थानीय लक्ष्मीबाई नगर कृषि उपज मंडी में आयोजित कार्यक्रम में  जल संसाधन मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट ने कहा कि यह अपने आप में रिकॉर्ड है, जब इतनी बड़ी राशि एक साथ किसानों के खातों में जमा की जा रही है। उन्होंने बताया कि जिले के सांवेर विकासखंड में ही 50 हजार किसानों के खातों में 125 करोड़ रुपये से अधिक की राशि बीमा क्षतिपूर्ति के रूप में जमा हुई है। इसी तरह जिले के अन्य विकासखंडों के किसानों को भी बड़ा लाभ मिला है। राज्य सरकार किसान हितैषी है, किसानों के हित में अनेक योजनाएं संचालित की जा रही हैं। किसानों की भरपूर मदद की जा रही है। जहां एक ओर उन्हें क्षतिपूर्ति के रूप में राशि वितरित हो रही है, वहीं दूसरी ओर किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत भी 10 हजार रुपये प्रति वर्ष प्रति किसान को राशि दी जा रही है। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में किसानों के लिए अनेक योजनाओं का संचालन किया जा रहा है।

इस मौके पर इंदौर जिले के लाभान्वित किसानों ने अपनी खुशी जाहिर कर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान को भी विशेष रूप से धन्यवाद देते हुए आभार प्रकट कर कहा कि हमारी फसलें अति वर्षा से नष्ट हो गई थी। लागत भी चली गई, भविष्य की चिंता सताने लगी लेकिन अब हम चिंता से मुक्त हो गए हैं।  इंदौर जिले के महू तहसील के ग्राम चिकली में रहने वाले हेमराज चंदेल का कहना है कि उन्होंने लगभग 25 एकड़ में सोयाबीन की फसल गत खरीफ़ में बोई थी। अति वर्षा होने के कारण उनकी फसल नष्ट हो गई। मुझे और मेरे परिवार को बहुत चिंता हुई, लेकिन मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान थे इसलिए उम्मीद थी कि हमें मुआवजा जरूर मिलेगा। लेकिन इतनी जल्दी मिलेगा उम्मीद नहीं थी। आज मुआवजा मिल रहा है, हमें बहुत खुशी है। अब हम आज प्राप्त लगभग पौने 6 लाख रुपये की राशि से खेती को आगे बढ़ाने का कार्य करेंगे। देपालपुर विकासखंड के ग्राम ओसरा के लक्ष्मी नारायण और पाडलिया में रहने वाले प्रहलाद सिंह भी चिंता मुक्त दिखाई दिए। उनका कहना था कि हमें अपनी क्षतिग्रस्त फसलों का मुआवजा मिल गया है। मुआवजे की राशि से अगली फसल बेहतर रूप से लगाएंगे और अच्छा उत्पादन प्राप्त कर अपनी आय में वृद्धि करेंगे।

मंत्री श्री सिलावट ने ग्राम पाड्या के श्री प्रहलाद पिता प्रताप सिंह को 6 लाख 53 हजार 766 रुपये, ग्राम ओसरा के श्री लक्ष्मी नारायण पिता रामसिंह को 5 लाख 15 हजार 715 रुपये, ग्राम चिखली के श्री हेमराज पिता रामकिशन को 5 लाख 72 हजार 341 रुपये, ग्राम राजधरा की श्रीमती जमनाबाई पिता कमल सिंह को 5 लाख 49 हजार 392 रुपये, ग्राम सेमल्या के श्री देवेन्द्र पिता बद्री प्रसाद को 6 लाख 76 हजार 884 रुपये तथा ग्राम निग्नोटी के श्री लक्ष्मण सिंह को 5 लाख 11 हजार 717 रुपये के चैक वितरित किये। इस कार्यक्रम में श्री आत्माराम पारिया, अपर कलेक्टर श्री राजेश राठौर, उप संचालक कृषि श्री एस.एस. राजपूत, उपसंचालक आत्मा परियोजना श्रीमती शर्ली थॉमस सहित अन्य अधिकारी और बड़ी संख्या में किसान उपस्थित थे।

महत्वपूर्ण खबर: ड्रोन से  खेती को बढ़ावा देने आगे आएं कृषि  छात्र- श्री तोमर

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.