गैनेक्सा से प्रतिरोध ज्यादा – मजबूत सुन्दर फसल का वादा

Share

यूपीएल का गैनेक्सा

  • अमित सलाग्रे
    पोर्टफोलियो मैनेजर,
    बायोसॉल्यूशंस, यूपीएल लि.

26 जुलाई 2021,  गैनेक्सा से प्रतिरोध ज्यादा – मजबूत सुन्दर फसल का वादा – पृथ्वी के पटल पर 24 प्रतिशत सिलिकॉन है। लेकिन यह उपलब्ध स्वरूप में नहीं होता। यद्यपि पिछले दशक तक ऐसा माना जाता था कि सिलिकॉन केवल कोशिका भित्ती को सशक्त बनाता है, लेकिन वैज्ञानिकों ने साबित कर दिया है कि सिलिकॉन पौधों के समुचित विकास के लिए एक आवश्यक पोषक तत्व है।
मिट्टी में पाये जाने वाले सिलिकॉन के रुप, पानी में घुलनशील नहीं होते, जिसके कारण पौधों के द्वारा अवशोषित नहीं हो पाते।
यूपीएल पेश करते हैं सिलिकॉन का एकमात्र रूप जिसे पौधे अवशोषित कर सकते हैं – गैनेक्सा एफसी । गैनेक्सा एफसी में सिलिसिलिक एसिड है जो पौधों द्वारा अवशोषित होने वाला एकमात्र सिलिकॉन का रूप है।

धान पर गैनेक्सा के फायदे

धान की फसल को सिलिकॉन पसंद होता है, इसलिए उत्तम पैदावार तथा बढिय़ा क्वालिटी के दाने देने के लिए इसे सिलिकॉन फर्टिलाइजर की अधिक मात्रा की ज़रूरत पड़ती है। केवल यूपीएल का गैनेक्सा उपलब्ध रूप में सिलिकॉन प्रदान करता है।

गैनेक्सा का इस्तेमाल, धान की फसल द्वारा झेले जाने वाले तरह-तरह के तनावों को दूर कर उसे विभिन्न तरीकों से फ़ायदा पहुंचाता है।
धान उगाने वाले इलाकों में लवणता एक बड़ी चुनौती है, जो कि पैदावार में 50 प्रतिशत तक की कमी का कारण बन रही है। गैनेक्सा का इस्तेमाल लवणता से प्रभावित इलाकों में भी पौध कायिक, जैव रसायनिक तथा मेटाबॉलिक प्रक्रियाओं को प्रभावित कर उच्च पैदावार क्षमता दिलाता है।

गैनेक्सा का इस्तेमाल फर्टिलाइजर की कार्यक्षमता को बढ़ाता है जिससे फसल की जीवन शक्ति में उल्लेखनीय सुधार आता है।

धान की फसल में एक और बड़ी समस्या होती है लॉजिंग की – पौधों का गिरना । गैनेक्सा का इस्तेमाल फसल को दृढ़ता प्रदान करता है, जिससे लॉजिंग में 30-40 प्रतिशत तक की कमी आती है।
पिछले कुछ अरसे में, फसल में कीटों के हमले में कई गुना वृद्धि हुई है और इसका कारण है सिलिकॉन की उपलब्धता में कमी। इसी प्रकार धान में रतुआ/ब्लास्ट एक प्रमुख रोग के रूप में उभरा है जो कि पैदावार में 20-30 प्रतिशत कमी के लिए जिम्मेदार है। गैनेक्सा का इस्तेमाल एक बायोजेनिक सुरक्षाकारी परत बनाकर कीटों के हमले को घटाता है।

जाने-माने आईसीएआर संस्थानों के साथ हमारे अध्ययनों ने दर्शाया है कि गैनेक्सा दानों की गुणवत्ता को भी सुधारता है और कुटाई के समय उनके टूटने को कम करता है।

पहला प्रयोग कल्ले (टिलर्स) बनने की अवस्था
  • अधिक उपजाऊ कल्लों (टिलर्स) के साथ मजबूत तना।
  • कीटों और रोगों के प्रकोप में कमी।
  • बालियों का ठीक से निकलना व भरना।
    दूसरा प्रयोग दाना भरने की अवस्था
  • दाग-धब्बों से मुक्त दानें।फसल का गिरना कम होता है।
  • सूखे के दौरान उपज का नुकसान घटना।
  • भारी धातुओं के संचय में कमी।
Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.