क्लस्टर आधारित संरक्षित खेती में शेड नेट के वित्तीय लक्ष्य जारी

Share

10 जुलाई 2021, भोपाल ।  क्लस्टर आधारित संरक्षित खेती में शेड नेट के  वित्तीय लक्ष्य जारी – मध्य प्रदेश के उद्यानिकी संचालनालय, भोपाल द्वारा राष्ट्रीय कृषि विकास योजना रफ्तार 2021 -22 में क्लस्टर आधारित संरक्षित खेती प्रोजेक्ट के शेष भौतिक /वित्तीय लक्ष्य आवंटित करने के आदेश गत दिनों आयुक्त उद्यानिकी एवं प्रक्षेत्र वानिकी द्वारा जारी किए गए हैं। उक्त आदेश में सभी श्रेणियों में अधिकतम अनुदान 50 % निर्धारित किया गया है , जबकि वर्ग मीटर की दरें भिन्न -भिन्न हैं।

आदेश के अनुसार शेड नेट हाउस के लिए सीहोर,खंडवा,शाजापुर,इंदौर, बैतूल,अलीराजपुर और देवास जिलों का चयन किया गया है।  इसके लिए 355 रुपए प्रति वर्ग मीटर की दर तय की गई है। इसमें सामान्य के लिए 48000 वर्ग मीटर ,अजजा के लिए 18000 और अजा के लिए 8000 वर्ग मीटर जारी किया गया है।  जिसके वित्तीय लक्ष्य क्रमशः 170.40 लाख ,63.90 लाख और 28.40 लाख रुपए है। इसी प्रकार पॉली हाऊस के लिए छिंदवाड़ा और बैतूल जिलों का चयन किया गया है , जहां 422 रुपए प्रति वर्ग मीटर की दर निर्धारित की गई है। इसमें सामान्य वर्ग के 16000 , अजजा और अजा के लिए बराबर 2080 -2080 वर्ग मीटर जारी किया गया है। जिसका वित्तीय लक्ष्य क्रमशः 67.52 ,8.78 और 8.78 लाख है।  

छिंदवाड़ा जिले में उच्च कोटि के फूलों की खेती में जरबेरा और कॉरनेशन के लिए 305 रुपए प्रति वर्ग मीटर की दर तय की गई है। यहां सामान्य वर्ग के लिए 8000  वर्ग मीटर का लक्ष्य जारी किया गया है । जिसका वित्तीय लक्ष्य 24.40 लाख है।  इसी तरह उच्च कोटि के फूलों  लिली और गुलाब के लिए छिंदवाड़ा और भोपाल जिलों का चयन किया गया है। इसके लिए 213 रुपए प्रति वर्ग मीटर की  दर तय की गई है।इसमें सामान्य वर्ग के लिए 15898 वर्ग मीटर जारी किया गया है। जिसका वित्तीय लक्ष्य 33.86 लाख रुपए है। वहीं उच्च कोटि की सब्जी की खेती के लिए एकमात्र बैतूल जिले का चयन  किया गया है।  इसके लिए 70 रुपए प्रति वर्ग मीटर की दर निर्धारित की  गई है।  यहां सामान्य वर्ग के लिए 12000 और अजजा और अजा के 8000  -8000  वर्ग मीटर के लक्ष्य जारी किए गए हैं। जिसका वित्तीय लक्ष्य क्रमशः 8.40लाख,5.60 लाख और 5.60 लाख  रुपए है।    

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.