राज्य कृषि समाचार (State News)

उन्नत तकनीकियों का उपयोग करके ग्रामीण जीवन शैली को बदलने पर कार्यशाला

Share

28 दिसम्बर 2022, उदयपुर: उन्नत तकनीकियों का उपयोग करके ग्रामीण जीवन शैली को बदलने पर कार्यशाला – दिनांक 26/12/2022 को उन्नत भारत अभियान, क्षेत्रीय समन्वयक संस्थान कार्यालय, महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रोद्योगिकी विश्वविद्यालय, उदयपुर  द्वारा आयोजित “उन्नत भारत अभियान योजना के तहत सहभागी संस्थाओं के लिए एक दिवसीय उन्मुखीकरण कार्यशाला ” सफलता पूर्वक संपन्न हुयी | उन्मुखीकरण कार्यशाला में उन्नत भारत अभियान के तहत आने वाले समस्त सहभागी संस्थाओं  के संयोजको के  साथ ही स्वंसेवी संस्थाओ के अधिकारिओं ने हिस्सा लिया| कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में  डॉ. एस. के. शर्मा , अनुसन्धान निदेशक, महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रोद्योगिकी विश्वविद्यालय, उदयपुर उपस्थित रहे| मुख्य वक्ता के रूप में श्री  राहुल भटनागर, भारतीय वन सेवा अधिकारी एवं श्री सी .एम. तेजावत, पूर्व अतिरिक्त निदेशक, वाटरशेड विभाग उपस्थित रहे| कार्यक्रम का शुभारम्भ डॉ. एस. के. शर्मा एवं  डॉ. पी के सिंह डीन, सीटीऐई एवं रीजनल कोऑर्डिनेटर उन्नत भारत अभियान के द्वारा किया। डॉ. एस. के. शर्मा के द्वारा उन्नत भारत अभियान के मुख्य पहलुओं पर प्रकाश डाला गया तथा शिक्षा के साथ -साथ एवं सामाजिक गतिविधिओं में भी संलग्न रहने की महत्ता पर भी जोर दिया | डॉ. सिंह ने बताया की  उन्नत तकनीकियों का उपयोग करके कैसे ग्रामीण जीवन शैली को बदला जा सकता है| डॉ. सिंह ने उन्नत भारत अभियान की विभिन्न गतिविधियों एवं उसकी भूमिका पर भी प्रकाश डाला | साथ ही डॉ. महेश कोठारी ने, बताया की कैसे उच्च शिक्षा संस्थान अपना योगदान  ग्रामीण  परिवेश को उन्नत बनाने में कर  सकते है | श्री सी .एम. तेजावत द्वारा वाटरशेड गतिविधि एवं जल गुणवत्ता से सम्बंधित जानकरी अधिकारिओं के साथ साझा की गई | कार्यक्रम के दौरान सृष्टि सेवा समिति एवं महान सेवा समिति  के अधिकारी भी उपस्थित रहे| कार्यक्रम के दौरान प्रतिभागियों ने अपने विचार उन्नत भारत अभियान के अधिकारिओं के समक्ष रखे|

कार्यक्रम का संचालन डॉ. विनय कुमार गौतम ने किया। कार्यक्रम  के अंत में डॉ. विनय कुमार गौतम, निर्मलाया नाथ, जरिपती राजू द्वारा लिखित  किताब का भी विमोचन किया गया| धन्यवाद ज्ञापन डॉ. मंजीत सिंह, मृदा जल अभियांत्रिकी विभाग द्वारा किया गया। प्रशिक्षण कार्यक्रम को संपन्न कराने में मृदा जल अभियांत्रिकी विभाग के समस्त PG एवं  बदलने छात्रों का योगदान रहा|

महत्वपूर्ण खबर: कपास मंडी रेट (26 दिसम्बर 2022 के अनुसार)

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्राम )

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *