कोविड की तरह लम्पी वायरस रोकने के प्रयास करें – मुख्यमंत्री श्री चौहान

Share

23 सितम्बर 2022, भोपाल: कोविड की तरह लम्पी वायरस रोकने के प्रयास करें – मुख्यमंत्री श्री चौहान – मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि लम्पी वायरस रोकने कोविड नियंत्रण की तरह प्रयास किए जाएं। जागरूकता निर्माण के लिए ग्राम सभाओं का आयोजन हो। राज्य सरकार द्वारा मवेशियों को निशुल्क टीका लगाने की व्यवस्था की गई है। जन-जागरूकता के लिए संचार माध्यमों का उपयोग किया जाए। अधिक से अधिक टीकाकरण कर रोग को फैलने से रोकने का कार्य हो। मुख्यमंत्री श्री चौहान कल मंत्रालय में प्रदेश में लम्पी रोग नियंत्रण के लिये किये जा रहे प्रयासों की समीक्षा कर रहे थे।इस मौके पर पशुपालन, सामाजिक न्याय एवं निशक्तजन कल्याण मंत्री श्री प्रेम सिंह पटेल, मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव पशुपालन श्री जे.एस. कंसोटिया और विभागीय अधिकारी मौजूद थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विशेष बैठक बुला कर लम्पी रोग के नियंत्रण के प्रयासों की जानकारी प्राप्त की और निर्देश दिए।मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा जिस तरह मिल कर सभी कोविड से लड़े थे, वैसा ही जागरूकता का वातावरण गाँव-गाँव में बनना चाहिए। मवेशियों को इस संक्रामक रोग से बचाने के लिए ग्राम सभाओं में चर्चा हो। रोग से बचाव के उपाय बताए जाएँ और प्रत्येक स्तर पर आवश्यक सतर्कता बरती जाए। कम संख्या में रोग से पशुओं की मृत्यु को हल्के में न लें और रोग की जानकारी न छिपाएँ। सभी आवश्यक उपायों को संयुक्त प्रयासों से अमल में लाया जाए।मुख्यमंत्री श्री चौहान ने गौशालाओं और अन्य स्थान पर रहने वाले पशुओं की रोग से रक्षा के लिए अधिकारियों को विस्तृत निर्देश दिए।

नियंत्रण कक्ष के साथ टोल फ्री नम्बर

मुख्यमंत्री के निर्देश पर भोपाल में राज्य स्तरीय रोग नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया है। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री श्री चौहान ने लम्पी वायरस के नियंत्रण के संबंध में पहले दो बैठकें लेकर निर्देश दिए थे। भोपाल में स्थापित नियंत्रण कक्ष का दूरभाष क्रमांक- 0755-2767583 तथा टोल फ्री नंबर 1962 है। इन नम्बरों पर चर्चा कर पशु पालकों द्वारा आवश्यक जानकारी और मार्गदर्शन प्राप्त किया जा सकता है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि लम्पी वायरस के नियंत्रण के लिए संचार माध्यमों का उपयोग करें। विभागीय अमले को सेंसटाइज करें। रोग नियंत्रण के प्रयासों की प्रतिदिन रिपोर्ट दें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि पशुओं के टीकाकरण पर जोर रहना चाहिए। केन्द्र सरकार के निर्देशों के अनुसार कार्य किया जाए।

महत्वपूर्ण खबर: किसान अब 1.60 लाख रुपये तक का ऋण  मोबाइल से ही स्वीकृत करा सकेंगे

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्राम )

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.