इस वर्ष प्रदेश में 560 बलराम तालाबों के लिए 4 करोड़ 76 लाख रुपये मिलेगा अनुदान

Share

आवेदन पत्र आमंत्रित

30 अप्रैल 2022, भोपाल/इंदौर । इस वर्ष प्रदेश में 560 बलराम तालाबों के लिए 4 करोड़ 76 लाख रुपये मिलेगा अनुदान   कृषि विभाग, कृषि अभियांत्रिकी संचालनालय द्वारा सिंचाई उपकरण के तहत वर्ष 2022 -23 हेतु ई-कृषि यंत्र अनुदान पोर्टल पर प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के अंतर्गत बलराम तालाब के जिलेवार लक्ष्य जारी कर दिए गए हैं । इस वर्ष प्रदेश में कुल 560 बलराम तालाबों के निर्माण का लक्ष्य रखा गया है, जिस पर 4 करोड़ 76 लाख रुपये से अधिक अनुदान दिया जाएगा। इन लक्ष्यों के विरुद्ध गत 25 अप्रैल 2022 से ई- पोर्टल पर कृषकों से आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। इच्छुक कृषक आवेदन कर इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

इस संबंध में संयुक्त संचालक कृषि, इंदौर श्री एके मीणा ने कृषक जगत को बताया कि बलराम तालाब योजना के लिए इच्छुक कृषक जिले के सहायक भूमि संरक्षण अधिकारी /कार्यालय से सम्पर्क करें। आवेदन ऑन लाइन ही स्वीकार किए जाएंगे। इसके लिए प्रक्रिया निर्धारित है, जिसका पालन कर आवेदन किया जा सकता है। बलराम तालाब योजना के लक्ष्य जिलेवार आवंटित होते हैं, जो पृथक -पृथक होते हैं।

इसी संदर्भ में कृषि विभाग, कृषि अभियांत्रिकी संचालनालय द्वारा 2 मार्च 2022 को जारी बलराम तालाब निर्माण के संशोधित दिशा निर्देश का उल्लेख प्रासंगिक है, जिसमें 24 फरवरी 2022 को अवर सचिव, कृषि द्वारा संशोधित परिपत्र जारी किया गया, जिसमें कहा गया है कि बलराम तालाब निर्माण के लिए वे कृषक पात्र होंगे, जिनके पास पूर्व से ही स्प्रिंकलर या ड्रिप इरिगेशन की सुविधा उपलब्ध हो अथवा कृषक द्वारा बलराम तालाब निर्माण के साथ या निर्माण के पश्चात् माइक्रो इरिगेशन सिस्टम से बलराम तालाब को जोड़ा जायेगा। जबकि इसके पूर्व 19 जनवरी 2022 को जारी बलराम तालाब निर्माण के पुनरीक्षित मार्गदर्शिका के बिंदु 3.2 में जिन किसानों के खेतों में पूर्व से स्प्रिंकलर या ड्रिप इरिगेशन यंत्र स्थापित हैं, मात्र उन्हीं किसानों को इस योजना का लाभ देने का प्रावधान किया गया था, जिसे 24 फरवरी 2022 को विलोपित कर दिया गया।

बलराम तालाब के जिलेवार लक्ष्य वर्ष 2022-23 के लिए

महत्वपूर्ण खबर: कृषि विज्ञान केंद्र प्रदर्शनी का केंद्रीय कृषि मंत्री – विधानसभा अध्यक्ष  ने किया अवलोकन

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.