किसान संगठनों के प्रतिनिधिमंडल ने कलेक्टर को उपार्जन संबंधी परेशानियां बताईं

Share

05 अप्रैल 2023, देवास: किसान संगठनों के प्रतिनिधिमंडल ने कलेक्टर को उपार्जन संबंधी परेशानियां बताईं – भारतीय किसान संघ और भारतीय किसान यूनियन के प्रतिनिधि मण्‍डल ने कलेक्‍टर श्री ऋषव गुप्‍ता को उपार्जन कार्य में आ रही परेशानियों से अवगत कराया। कलेक्‍टर श्री गुप्‍ता उपार्जन कार्य में आ रही परेशानियों के निराकरण का आश्‍वासन दिया। जिस पर किसान संगठनों के प्रतिनिधि मण्‍डल ने कलेक्‍टर श्री गुप्‍ता को धन्‍यवाद दिया।

कलेक्‍टर श्री गुप्‍ता ने कहा कि जिले में उपार्जन केन्‍द्र सुबह 08 बजे से शुरू हो जायेंगे। शासन के निर्देशानुसार समिति और किसानो के आपसी समन्‍वय से फ्लेट कांटा तौल सुविधा उपलब्‍ध कराई जायेगी। कलेक्‍टर श्री गुप्‍ता ने कहा कि उपार्जन सर्वेयर की शिकायत के संबंध में कंट्रोल रूम 07272-222287 में शिकायत करें। शिकायत की पुष्टि होने पर सर्वेयर के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जायेगी। उपार्जन सर्वेयर द्वारा गेहूं के सेम्‍पल की गुणवत्‍ता चेक करने के बाद सैम्‍पल किसान को वापस किया जायेगा। केवल गुणवत्‍ताहीन गेहूं(नान एफएक्‍यू) का सेम्‍पल सर्वेयर द्वारा उपार्जन केन्‍द्र पर संधारित किया जायेगा। सेम्‍पल की मात्रा 500 ग्राम से अधिक नहीं ली जायेगी। कलेक्‍टर श्री गुप्‍ता ने कहा कि उपार्जन के लिए स्‍लॉट बुकिंग की समस्‍या के लिए शासन को अवगत कराया गया है। शीघ्र निराकरण संभव है।

कलेक्‍टर श्री गुप्‍ता ने कहा कि वेयर हाउस में बारदान पर्याप्‍त मात्रा में उपलब्‍ध है। हम्‍माल को समिति द्वारा भुगतान किया जायेगा। किसान को हम्‍माल का तौल के लिए अलग से कोई भुगतान नहीं करना है। उपार्जन केंद्रों पर हम्‍माल और तौल कांटे की व्‍यवस्‍था की गई है। मण्‍डी में एफएक्‍यू मानक गेंहू एमएसपी से कम मूल्‍य पर नहीं खरीदा जायेगा। एमएसपी से कम मूल्‍य पर खरीदने की शिकायत पर कार्यवाही की जायेगी। जिले में उपार्जन की सुविधा के लिए 136 केन्‍द्र वेयरहाउस पर बनाये गये है। किसान भाई अपनी उपज के विक्रय के लिए उपार्जन केन्द्र एवं उपज विक्रय की दिनांक का स्वयं चयन कर ई उपार्जन पोर्टल पर स्लाट बुकिंग कर सकते है। पंजीकृत किसानों को अपनी उपज विक्रय के लिए एसएमएस का इंतजार करने की आवश्यकता नहीं है। उपार्जन कार्य के लिए बारदानों, परिवहन की सम्‍पूर्ण व्‍यवस्‍था, उपार्जन केंद्रों पर टेंट, पेयजल और केन्‍द्रों पर भीड़ न लगे इसकी सम्‍पूर्ण व्यवस्था की गई है।

उल्‍लेखनीय है कि जिले में समर्थन मूल्य योजना अंतर्गत रबी वर्ष 2022-23 (विपणन वर्ष 2023-24) में गेहूं का उपार्जन 10 मई तक किया जायेगा। चना फसल एवं सरसों फसल का उपार्जन कार्य 31 मई तक किया जाएगा। गेहूं का समर्थन मूल्‍य 2125, चना का समर्थन मूल्य 5335 रूपये क्विंटल एवं सरसों का समर्थन मूल्य 5450 रूपये निर्धारित किया गया है।

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्राम )

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *