खले में खेती के नाम पर खाद लेते व्यक्ति को एसडीएम ने पकड़ा

Share

14 दिसंबर 2022, खरगोन: खले में खेती के नाम पर खाद लेते व्यक्ति को एसडीएम ने पकड़ा – खरगोन शहर के उमरखली रोड़  स्थित खाद वितरण केंद्र पर लगातार किसानों की आवक हो रही है। इस व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए कलेक्टर श्री कुमार पुरुषोत्तम के निर्देशों पर राजस्व और कृषि विभाग निगरानी कर रहा है। मंगलवार को इस केंद्र पर एसडीएम श्री ओमनारायण सिंह ने खले में खेती के नाम पर खाद लेते एक व्यक्ति को पकड़ा है।

खरगोन जिले में पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष 8 हजार मैट्रिक  टन से अधिक खाद का उठाव हुआ है। वहीं  अभी भी यहां खाद का पर्याप्त स्टॉक है। इसके बावजूद खरगोन नगर के उमरखली रोड स्थित खाद वितरण केंद्र पर लगातार किसानों की आवक को देखते हुए खरगोन एसडीएम श्री ओमनारायण सिंह और कृषि विभाग द्वारा जांच की। इस मामले में एसडीएम श्री सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि मंगलवार को उमरखली केंद्र पर ठिबगांव के चम्पालाल दयाराम अपनी पावती के अलावा एक अन्य की पावती के साथ वृद्ध पत्नी को दो पावती के साथ बैठा रखा था। जिसमें एक पावती खले की भूमि की पायी गई। जबकि चम्पालाल स्वयं स्वस्थ  होकर पत्नी को लाइन में लगाकर वे भी वहीं  मौजूद रहे। एसडीएम श्री सिंह ने बताया कि खले की भूमि पर खाद देना मान्य नहीं है। इसी तरह नई और पुरानी पावती के साथ भी कई किसान पकड़ में आये हैं । इसके अलावा उमरखली केंद्र पर ही पेनपुर गोगांवा के किसान त्रिलोकचंद जोगीलाल द्वारा उमरखली की एक महिला को तीन पावती देकर टोकन के लिए लाइन में लगाया गया। जांच में पाया गया कि त्रिलोकचंद द्वारा स्वयं के अलावा दो अन्य पावती बाबूलाल और संतोष पर 29 नवम्बर को 25 बोरी यूरिया ले चुका है।    

जांच में सही पाए जाने पर होगी सख्त कार्यवाही – खाद की व्यवस्था को लेकर कलेक्टर श्री कुमार ने कहा कि आमतौर पर बड़ी संख्या में किसान खाद लेने नहीं आते है, क्योंकि हर तहसील में पर्याप्त स्टॉक और वितरण व्यवस्था पर निगरानी कर रहे हैं । जबकि इस वर्ष 8 हजार मैट्रिक  टन अधिक खाद का उठाव भी हुआ है। जब बड़ी संख्या में किसानों के आने की शिकायतें मिली तो वहां जांच करवाई गई। जांच में पाया गया कि एक व्यक्ति किराए पर एक वृद्ध महिला को लाकर उसकी पावती पर खाद के लिए लगा रखा था। पहले भी ऐसी शिकायत मिली थी। लेकिन अब इस पर सख्ती की जायेगी। हमारा उद्देश्य किसानों को पर्याप्त खाद उपलब्ध कराना है। भविष्य में अगर ऐसी शिकायत पर जांच में सही पाया गया तो फर्जी व्यक्ति पर सख्त कार्यवाही की जाएगी।

महत्वपूर्ण खबर: गेहूं में उर्वरकों की मात्रा एवं उनका प्रयोग 

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्राम )

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *