कृषि क्षेत्र में रोबोट, ड्रोन तकनीकी से क्रांतिकारी बदलाव होगा- प्रो. गोंटिया

Share

16 जून 2022, जबलपुर । कृषि क्षेत्र में रोबोट, ड्रोन तकनीकी से क्रांतिकारी बदलाव होगा- प्रो. गोंटिया – जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय के अंतर्गत कृषि अभियांत्रिकी महाविद्यालय जबलपुर में विश्व बैंक पोषित परियोजना द्वारा एक दिवसीय कार्यशाला आयोजित की गई। कृषि विश्वविद्यालय के कृषि अभियांत्रिकी महाविद्यालय के भूतपूर्व छात्र एवं वर्तमान में कृषि विश्वविद्यालय जूनागढ़ के कुलपति प्रो. नरेन्द्र कुमार गोंटिया द्वारा “सतत् कृषि के लिये तकनीकी परिवर्तन“ विषय पर व्याख्यान दिया गया, अपने व्याख्यान में रोबोट और ड्रोन तकनीकी को विशेषतौर पर प्रदर्शित करते हुये इसके कृषि में समावेश पर बल दिया।

आपने अपने उद्बोधन में बताया कि आगामी 4-5 वर्षो में खेतों में देखभाल व काम में रोबोट और ड्रोन तैनात होंगे, कृषि में वैज्ञानिक तरीके से क्रांतिकारी बदलाव की झलक अमेरिका, जापान के साथ ही भारत में तकनीकी आधार पर खेती की अपार संभावनायें हैं। वर्तमान में रोबोटिक डेयरीफार्म, रोबोटिक बीडिंग, मानव रहित ऑटोमैटिक ट्रेक्टर व ड्रोन का इस्तेमाल होना षुरू हो चुका है।

कार्यक्रम की अध्यक्षता अधिष्ठाता कृषि अभियांत्रिकी संकाय डॉ. अतुल कुमार श्रीवास्तव ने की ण्उन्होने स्वागत भाषण में कहा कि कृषि के क्षेत्र में कृषि अभियांत्रिकी की आवष्यकता व उपयोगिता के परिणाम स्वरूप हमारे विद्यार्थियों का भविष्य सुरक्षित व बेहतरीन है। कार्यक्रम का संचालन डॉ.षीला पांडे और आभार प्रदर्शन डॉ. आर. के. नेमा पी.आई. नाहेप ने किया। कार्यशाला में डॉ. दिनकर शर्मा संचालक विस्तार सेवाएं, डॉ. अभिषक शुक्ला संचालक शिक्षण, डॉ. डी. के. पहलवान संचालक प्रक्षेत्र एवं विष्वविद्यालय के विभाग प्रमुख, प्राध्यापक, वैज्ञानिक, छात्र-छात्राओं की एवं कर्मचारियो की बड़ी संख्या में उपस्थिति रही।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.