बाल श्रम निषेध दिवस पर दिलाया संकल्प

Share

14 जून 2022, खरगोन । बाल श्रम निषेध दिवस पर दिलाया संकल्प – बालश्रम अभिशाप तो है ही ,देश की  प्रगति में भी बाधक है । बच्चे देश के भविष्य हैं, अतः  हम सबका दायित्व है कि उन्हें बेहतर आज दे, ताकि वे कल सुनहरे भविष्य का निर्माण कर सके। विश्व बाल श्रम निषेध दिवस पर यह सामाजिक जागरूकता का  संदेश  निमाड़ की प्रमुख संस्था के.के.फायबर्स एवं निरंजनलाल अग्रवाल फाउंडेशन के सदस्यों ने खरगोन, बड़वानी जिलों के चिन्हित गांवों में दिए और ग्रामीणों को बाल श्रम के विरुद्ध संकल्प दिलाया गया।  

संस्था प्रमुख श्री आशुतोष अग्रवाल ने कहा कि बाल श्रम पूर्ण रुप से प्रतिबंधित किया जाना चाहिये। हर एक बच्चे के माता पिता को इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिये कि बच्चों को शुरुआती  शिक्षा देना बहुत जरुरी है। निरंजनलाल  फाउंडेशन  के श्री प्रीतेश अग्रवाल ने  कहा कि ऐसे अभियान हम हमेशा से चलाते आ रहे हैं। हम हर वह प्रयत्न करेंगे जिससे बालक- बालिकाओं की शिक्षा पूर्ण हो। प्रबंधक श्री गौरव निखोरिया ने जानकारी दी कि बाल श्रम निषेध दिवस पर करीब 90 से अधिक गांवों मे कार्यक्रम हुए जिसमें किसानों  और मजदूर परिवारों  के सदस्यों  ने संकल्प लिया कि हम हमारे बच्चों को किसी भी प्रकार की मजदूरी के कार्य में सम्मिलित नहीं होने देंगे और जरुरी शिक्षा दिलवाएंगे ।

संस्था ने जागरूकता कार्यक्रम के तहत ग्रामीण प्रतिभाओं को उभारने हेतु बच्चों के लिये  चित्रकला प्रतियोगिता रखी गई  जिसमें बच्चों ने उत्साहपूर्वक भाग लिया और बाल मजदूरी सहित पर्यावरण बचाव विषय पर मनमोहक चित्र बनाए। बच्चों को पुरुस्कृत भी किया गया। बाल श्रम निषेध दिवस पर आयोजित कार्यक्रमों में संस्था सदस्य रूपाली यादव,भारती यादव,मंजुला  राठौड़,संजय कदम,शैलेन्द्र  बिरला,जितेन्द्र जायसवाल, रमेश यादव,विजय प्रजापत, ताराचंद, भूपेन्द्र चौहान, भागीरथ यादव, गजानन्द, सायबा, त्रिलोक एवं समस्त स्टाफ का  सराहनीय योगदान रहा।

महत्वपूर्ण खबर: किसान सोयाबीन की बोवनी 4 इंच वर्षा होने के बाद ही करें

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.