मध्य प्रदेश में चंदन की खेती का सुझाव दिया प्रधानमंत्री ने

Share

श्री मोदी से मुख्यमंत्री की मुलाकात

4 अक्टूबर 2021, भोपाल ।  मध्य प्रदेश में चंदन की खेती का सुझाव दिया प्रधानमंत्री ने – प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने मध्यप्रदेश शासन की सी.एम. राईज स्कूल योजना, सुशासन और अन्य कल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन की सराहना की है। प्रधानमंत्री ने प्रदेश में टीकाकरण अभियानों की सफलता पर भी प्रसन्नता व्यक्त की साथ ही मध्य प्रदेश में चंदन की खेती करने का सुझाव दिया जिससे किसानों की आय बढ़े तथा अधिक लाभ मिले। प्रधानमंत्री से मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने नई दिल्ली में मुलाकात की।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि वर्ष 2023 को संयुक्त राष्ट्र संघ ने मोटे अनाज के वर्ष के रूप में घोषित किया है जिसकी तैयारी में मध्यप्रदेश कोदो-कुटकी जैसे पौष्टिक मोटे अनाज का उत्पादन करने वाले स्व-सहायता समूहों को प्रोत्साहित कर रहा है। साथ ही उन्होंने इस बात पर चर्चा की कि प्रदेश में अत्यधिक और कम उत्पादन वाली फसलों के बीच संतुलन बनाते हुए मध्यप्रदेश को एक मॉडल राज्य बनाया जाएगा। जिसमें निर्यात की अधिक संभावना वाली फसलों को बढ़ावा दिया जाएगा। फसलों के विविधीकरण और व्यवसायिक खेती पर चर्चा के दौरान प्रधानमंत्री श्री मोदी ने प्रदेश में चंदन की खेती करने का सुझाव दिया, जिससे किसानों को अधिक लाभ मिल सके।

राज्य शासन की एथेनॉल पालिसी के बारे में चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि 28 कम्पनियों ने एथेनॉल के उत्पादन के लिये प्रदेश में आवेदन किया है। अनाज के आवश्यकता से अधिक उत्पादन का उपयोग एथेनॉल बनाने में किया जा सकता है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सुझाव दिया कि विकास कार्यों के लिये ली गई वन भूमि के स्थान पर दुगनी राजस्व भूमि देनी पड़ती है, जिसके स्थान पर यदि बिगड़े वनों पर तीन गुना अधिक वन लगाने का दायित्व दिया जाये तो वन क्षेत्र में बढ़ोतरी होगी।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.