ग्रेडिंग के आधार पर पंचायतें होंगी पुरस्कृत

Share
पंचायत एवं ग्रामीण विकास

17 जनवरी 2022, भोपालग्रेडिंग के आधार पर पंचायतें होंगी पुरस्कृत श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश की पंचायतों के कार्य की ग्रेडिंग की जायेगी तथा जो पंचायतें अच्छा कार्य कर रही हैं, उन्हें पुरस्कृत किया जायेगा। हर पंचायत की विकास योजना बनाई गई है, उस पर अमल कर ‘स्मार्ट विलेज’ बनाये जायेंगे। श्री चौहान मंत्रालय में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने विभाग द्वारा गाँव-गाँव में कचरा संग्रहण एवं परिवहन के लिये बनाये गये ‘मोबाइल एप’ का लोकार्पण भी किया। पंचायत एवं ग्रामीण विकास राज्य मंत्री श्री रामखेलावन पटेल, मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, सीईओ मध्यप्रदेश डे राज्य आजीविका मिशन श्री एल.एम. बेलवाल तथा संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।


श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में स्व-सहायता समूहों द्वारा 127 ‘दीदी कैफे’ संचालित किये जा रहे हैं। ये स्वल्पाहार केन्द्रों के रूप में सफलतापूर्वक संचालित हो रहे हैं। आने वाले समय में वल्लभ भवन, विंध्याचल, सतपुड़ा आदि स्थानों पर भी ‘दीदी कैफे’ खोले जायेंगे।

उत्पाद ‘जैम’ और ‘अमेजन’ पर बिकें

श्री चौहान ने निर्देश दिये कि प्रदेश में महिला स्व-सहायता समूहों एवं अन्य द्वारा तैयार किये गये उत्पाद जैम पोर्टल एवं अमेजन जैसे मार्केटिंग प्लेटफार्म पर बिकें, इसके लिये सघन प्रयास किये जायें।

महत्वपूर्ण खबर: प्रदेश में मसाला फसलों के उत्पादन से जुड़े किसानों को दें बढ़ावा

हर गाँव में हो ग्राम संगठन

श्री चौहान ने निर्देश दिये कि राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन में हर गाँव में ग्राम संगठन बनें। वर्तमान में प्रदेश में 32 हजार 874 ग्राम संगठन हैं। श्री चौहान ने सभी 45 हजार गाँवों में ग्राम संगठन बनाने के निर्देश दिये। श्री चौहान ने निर्देश दिये कि मनरेगा में कराये गये कार्यों के भुगतान में विलंब नहीं होना चाहिये। उन्होंने इस संबंध में केन्द्रीय मंत्री श्री गिरिराज सिंह से बातचीत कर लंबित भुगतान के लिये बजट की माँग की।
केन्द्रीय मंत्री ने अश्वस्त कराया कि शीघ्र ही बजट दिया जायेगा।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.